Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

#BirdFlu_Alert: इस जिला में सुबह आठ से रात 8 बजे के बीच ही मुर्गे लाने वाले वाहनों की होगी एंट्री

डीसी सोलन ने जारी किए आदेश, निरीक्षण चौकियां होंगी स्थापित

#BirdFlu_Alert: इस जिला में सुबह आठ से रात 8 बजे के बीच ही मुर्गे लाने वाले वाहनों की होगी एंट्री

- Advertisement -

सोलन। डीसी एवं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अध्यक्ष केसी चमन ने आमजन की सुरक्षा के दृष्टिगत जिला के सीमान्त क्षेत्रों में मृत कुक्कट पक्षी मिलने की जानकारी प्राप्त होने पर किसी भी संक्रामक रोग के फैलने की संभावना को समाप्त करने के उद्देश्य से आवश्यक आदेश जारी किए हैं। जिला डीसी ने आदेश दिए हैं कि पुलिस (Police) तथा पशु पालन विभाग द्वारा जिला के सीमान्त क्षेत्रों सहित विभिन्न खुले स्थानों की 24×7 निगरानी सुनिश्चित बनाई जाएगी। पुलिस विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि दल गठित कर पूरे जिला में मुर्गी पालन फार्म की नियमित निगरानी एवं सघन जांच की जाए।


यह भी पढ़ें: #birdflu के खतरे के बीच परवाणू में सड़क किनारे फेंके सैकड़ों मरे हुए मुर्गे, हमीरपुर में भी Alert जारी

पुलिस विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि जिला के सीमान्त क्षेत्रों में निरीक्षण चौकियां स्थापित की जाएं। उप निदेशक पशुपालन विभाग (Deputy Director Animal Husbandry Department Solan) सोलन द्वारा इन चैकियों में विभागीय कर्मी तैनात किए जाएंगे, ताकि कुक्कट पक्षी इत्यादि लाने वाले सभी वाहनों का समुचित निरीक्षण किया जा सके। पुलिस अधीक्षक सोलन (SP Solan) तथा पुलिस अधीक्षक बद्दी, उप निदेशक पशु पालन विभाग सोलन की आवश्यकतानसार सहायता प्रदान करेंगे, ताकि सीमान्त क्षेत्रों में लाए जा रहे कुक्कट पक्षी इत्यादि की पूरी जांच की जा सके। इन आदेशों के अुनसार सोलन जिला की सीमा से प्रदेश में कुक्कट, चिकन, अंडे आदि लाने वाले वाहन प्रातः 8 बजे से रात्रि 8 बजे तक ही प्रवेश करेंगे। अन्य समय में इन्हें प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। जिला में अन्य राज्यों से पहले से ही हलाल कर लाए जा रहे पक्षियों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है।


यह भी पढ़ें: #BirdFlu_Alert: हिमाचल के इस जिला में बिना जांच डिस्पोज नहीं होगा कोई मृत पक्षी या पशु

पशु पालन विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि जिला सोलन के विभिन्न कुक्कट फार्मों में रखे गए कुक्कट का नियमित रूप से प्रत्येक 15 दिनों की अवधि में सैंपल लें और इसे जांच के लिए क्षेत्रीय रोग निदान प्रयोगशाला, जालंधर भेजें। जिला खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति नियन्त्रक तथा सहायक खाद्य सुरक्षा आयुक्त सोलन को जिला की सभी मीट विक्रय करने वाली दुकानों की सघन जांच के आदेश दिए गए हैं। जिला में प्राधिकृत एवं स्वच्छ स्लाटरिंग सुनिश्चित बनाने के आदेश भी जारी किए गए हैं।
कुक्कट पक्षियों के अतिरिक्त अन्य पक्षियों के मृत पाए जाने की स्थिति में अथवा वन क्षेत्र में उपरोक्त सभी आदेश वन विभाग द्वारा माने जाएंगे।

यह भी पढ़ें: भारत में #BirdFlu ने मचाई दहशत, #Haryana में एक लाख मुर्गी और चूजों की मौत से हड़कंप

अरण्यपाल सोलन यह सुनिश्चित बनाएगें कि उनके अधिकार क्षेत्र में मृत अथवा बीमार पाए गए पक्षियों का पूर्ण रिकार्ड रखा जाए। वन विभाग के अधिकार क्षेत्र से बाहर ऐसा पूरा रिकार्ड उप निदेशक पशु पालन विभाग द्वारा रखा जाएगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन को आदेश दिए गए हैं कि संभावित बर्ड फ्लू से निपटने के लिए आवश्यक दवाईयां, पीपीई किट इत्यादि का भण्डारण सुनिश्चित बनाएं और संभावित बर्ड फ्लू (Bird Flu) के मनुष्य में प्रसार पर नज़र बनाएं रखें। उन्हें बर्ड फ्लू के लिए परीक्षण प्रयोगशालाओं का ब्यौरा तैयार रखने के आदेश भी दिए गए हैं। यह आदेश आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 34 के तहत जारी किए गए हैं। आदेश तुरंत प्रभाव से लागू हो गए हैं तथा आगामी आदेशों तक पूरे जिला में प्रभावी रहेंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है