Expand

जोड़ों के दर्द में आराम दिलाती है ये अरोमा थैरेपी

कैल्शियम युक्त आहार की कमी हड्डियों की कमज़ोरी का कारण

जोड़ों के दर्द में आराम दिलाती है ये अरोमा थैरेपी

- Advertisement -

आपने बहुत सारे लोगों को जोड़ों की दर्द से परेशान देखा होगा। बढ़ती उम्र के साथ तो चलना-फिरना, उठना- बैठना तक मुश्किल हो जाता है। आजकल के सर्दियों के मौसम में तो समस्या और भी बढ़ जाती है। अगर किसी जोड़ में चोट लग जाए तो दर्द होता है और सर्दियों में यह काफ़ी परेशान करता है।कई बार आराम की स्थिति में भी दर्द होता है, जोड़ों में सूजन आ जाती है। सुबह उठने पर तक़लीफ़ काफ़ी होती है, कुछ समय तक तो काफ़ी तेज़ दर्द होता है

बढ़ती उम्र में कार्टिलेज घिस जाने, आर्थराइटिस और हड्डियों में मिरल्स की कमी आदि के चलते जोड़ों का दर्द होता है। कई बार कम उम्र के लोग भी इसकी शिकायत करते देखे जाते हैं। इस उम्र में जोड़ों के दर्द का मुख्य कारण उनका लाइफ़स्टाइल होता है। इनमें प्रमुख है ऑफिस में लंबे समय तक बैठे रहना। साथ ही फ़ास्ट फ़ूड व स्मोकिंग जैसी आदतें भी जोड़ों के दर्द को बढ़ाती हैं। खानपान में विटामिन-डी और कैल्शियम युक्त आहार की कमी भी हड्डियों की कमज़ोरी का एक कारण है। ठंडे या गरम पानी का सेंक के अलावा अरोमा थेरेपी भी इस दौरान कारगर साबित हो सकती है। अरोमा यानी ख़ुशबू का प्रभाव हमारे मस्तिष्क पर पड़ता है, जिससे दर्द से राहत मिलती है. अरोमा ऑयल्स प्रभावित हिस्से के रक्त संचार को बेहतर बनाते हैं और सूजन कम करते है। जानते हैं कौन से तेल की थेरेपी है कारगर

लैवेंडर ऑयल: जिस जगह पर दर्द हो वहां पर सीधे इस ऑयल को लगाएं। इसकी तेज खुशबू आप को दर्ज से निजात दिलाएगी। इस तेल को हमेशा गोलाकर में मसाज करते हुए लगाना चाहिए।

रोज़मेरी ऑयल: आप इस तेल को प्रभावित हिस्से पर लगाएं। यह तेल रोज़मेरिनिक एसिड से युक्त होता है और यह दर्द को कम करता है।

पिपरमेंट ऑयल: इस ऑयल की 5-8 बूंदों को 2 चम्मच गुनगुने नारियल तेल में मिलाकर तुरंत इस्तेमाल योग्य बनाएं। आप चाहें तो नारियल तेल की जगह किसी दूसरे तेल भी प्रयोग कर सकते हैं।

लेमनग्रास ऑयल: ज्यादा राहत पाने के लिये इस ऑयल को अलग-अलग तरीक़ों से प्रयोग किया जा सकता है। पानी को उबालें और उसमें कुछ बूंदें लेमनग्रास की डालें। प्रभावित हिस्से में इसकी भाप लें दर्द से राहत मिलेगी।

लोबान ऑयल : इस तेल को ऑलिव ऑयल के साथ मिलाकर सूजनवाले हिस्से में लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें। कुछ देर बाद आप राहत महसूस करेंगे।

क्लोव एसेंशियल ऑयल: इस तेल को जोजोबा ऑयल के साथ मिलाकर प्रभावित हिस्से लगाएं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है