Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,229,271
मामले (भारत)
117,446,648
मामले (दुनिया)

कम बर्फबारी से खत्म हो रही हैं हिमाचल में सेब की ये दो प्रजातियां 

कम बर्फबारी से खत्म हो रही हैं हिमाचल में सेब की ये दो प्रजातियां 

- Advertisement -

 

शिमला। हिमाचल प्रदेश के हिमालयन क्षेत्र में पिछले कुछ सालों से कम बर्फबारी के चलते दुनिया के दो सबसे मीठे और स्वादिष्ट सेब की प्रजातियां लुप्त होने की कगार पर हैं। हालिया शोध के मुताबिक, स्नोलाइन (हिमरेखा) के पीछे खिसकने और बढ़ती गर्मी से ‘गोल्डन डिलिशियस’ और ‘रेड डिलिशियस’ प्रजाति के सेबों की पैदावार चार दशकों में 90 फीसदी तक घटी है।

वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलाजी के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. डीपी डोभाल के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश के साथ ही उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में स्नोलाइन औसतन लगभग 40 से 50 मीटर तक पीछे चली गई है। इसी तरह ग्लेशियर भी काफी पीछे गए हैं। पहले हिमालय में पांच हजार मीटर ऊंचाई वाले क्षेत्रों में पहले साल भर बर्फ गिरा करती थी, लेकिन अब यहां पर जून, जुलाई और अगस्त में बर्फ गिरने के बजाय बारिश हो रही है।

45 दिन तक चाहिए जीरो से 3 डिग्री का तापमान

गोल्डन और रेड डिलिशियस सेब को लगभग 1200 से 1400 घंटे यानी 45 दिनों तक शून्य से तीन डिग्री तक के तापमान जरूरत होती है, लेकिन इसका आधा बर्फीला मौसम भी इन फसलों को नहीं मिल रहा। इसकी बजाय असमय बारिश, ओलावृष्टि से फसल और बर्बाद हो रही है।

3400 मीटर की ऊंचाई पर होती है सेब की खेती

सेब की कई प्रजातियां हिमालय से लगती ढलानों में होती है। उच्च गुणवत्ता वाली डिलीसियस प्रजाति 3400 मीटर तक पाई जाती है। इससे कम ऊंचाई 1500 मीटर पर स्पर किस्में उगाई जा सकती हैं।

सबसे स्वादिष्ट सेब की प्रजातियों में शामिल

दुनिया भर में सेब की 7500 प्रजातियां पाई जाती हैं। इनमें रेड डिलीसियस और गोल्डन डिलीसियस सबसे स्वादिष्ट प्रजाति होती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है