Expand

भारत-पाक युद्ध में माता के इस मंदिर ने बचाई थी भारत की लाज, जानें

450 पकिस्तानी बम हो गए थे फुस्स

भारत-पाक युद्ध में माता के इस मंदिर ने बचाई थी भारत की लाज, जानें

जैसलमेर। नवरात्र का प्रारंभ हो चुका है, इस दौरान दुर्गा के अलग अलग रूप की पूजा की जाती है। इसी सिलसिले में आज हम आपको एक दुर्गा माता के एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने भारत-पाक युद्ध में भारत की लाज बचाई थी। राजस्थान के जैसलमेर में स्थित तनोट माता मंदिर के साथ भारत-पाकिस्तान युद्ध की कई सारी चमत्कारी यादें जुड़ी हुई हैं।

बताया जाता है कि सन 1965 और 1971 में भारत पाक के बीच हुए युद्ध के दौरान भारतीय सैनिकों और सीमा सुरक्षा बल के जवानों की तनोट माता ने ही मां बनकर रक्षा की थी। थार रेगिस्तान में 120 किमी की दूरी पर स्थित तनोट माता के मंदिर पर पाकिस्तानी सेना कि तरफ से गिराए गए करीब 3000 बम भी इस मंदिर पर खरोच तक नहीं ला सके थे। यहां तक कि इस दौरान मंदिर परिसर में गिरे 450 बम तो फट भी नहीं सके थे। इन बमों को आज भी मंदिर के संग्रहालय में पाकिस्तान द्वारा दागे गए जीवित बमों को रखा गया है। बताया जाता है कि तनोट पर आक्रमण से पहले शत्रु सेनाओं ने तीनों दिशाओं से भारतीय सेना को घेर लिया था। लेकिन इस दौरान माता के चमत्कार ने दुश्मनों द्वारा किए गए सभी वार को विफल कर दिया और भारत की लाज बचा ली।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Advertisement
Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Advertisement

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है