Covid-19 Update

2,01,049
मामले (हिमाचल)
1,95,289
मरीज ठीक हुए
3,445
मौत
30,067,305
मामले (भारत)
180,083,204
मामले (दुनिया)
×

कोरोना जंग में योगदान, अपने खर्चे पर पंडोह बाजार को Sanitize करता है यह युवक

कोरोना जंग में योगदान, अपने खर्चे पर पंडोह बाजार को Sanitize करता है यह युवक

- Advertisement -

मंडी। कोरोना महामारी के इस दौर में बहुत से ऐसे उदाहरण सामने आए हैं जो समाज के लिए बेहतर कार्य कर रहे हैं। इन्हीं में से एक हैं मंडी जिला के पंडोह कस्बा निवासी रोहित कुमार। रोहित कुमार पंडोह बाजार (Pandoh market) में मन्यारी की दुकान चलाता है। जब कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ा और देश को लॉकडाउन किया गया तो रोहित कुमार ने अपने बाजार को सुरक्षित रखने के लिए कुछ करने की सोची। रोहित ने पंप और हाइपोक्लोराइट दवाई खरीदी और पंडोह बाजार को सैनिटाइज (Sanitize) करने का कार्य शुरू कर दिया। रोहित सप्ताह में दो बार पूरे पंडोह बाजार को सैनिटाइज करता है।

यह भी पढ़ें: Big Breaking : कोरोना की गिरफ्त में हिमाचल, Kangra में तीन नए Positive आए सामने

जैसे ही दोपहर बाद कर्फ्यू शुरू हो जाता है तो रोहित पंप में दवाई डालकर पूरे बाजार को सैनिटाइज करने के लिए निकल जाता है। इस कार्य के लिए वह किसी की मदद का इंतजार नहीं करता बल्कि सारा काम खुद ही करता है। रोहित कुमार ने बताया कि उनका क्षेत्र नेशनल हाईवे से सटा हुआ है ऐसे में यहां संक्रमण (Infection) फैलने का खतरा अधिक है। यही कारण है कि उन्होंने सप्ताह में दो बार अपने बाजार को सैनिटाइज करने का निर्णय लिया है। रोहित कुमार अभी तक दस हजार रुपए की राशि अपनी जेब से खर्च करके इस कार्य को अंजाम दे चुके हैं। रोहित कुमार बताते हैं कि अगर लोग आपसी सहयोग (mutual support) से अपने क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन के कार्य को शुरू करते हैं तो वह व्यक्तिगत सुरक्षा के साथ-साथ क्षेत्र की सुरक्षा में भी अपना योगदान दे सकते हैं।


यह भी पढ़ें: कहां से चलेगी-कहां पर रुकेगी: Railway ने जारी की ट्रेन की लिस्ट और टाइमटेबल

रोहित के इस कार्य से पंडोह बाजार के लोग काफी प्रभावित नजर आ रहे हैं और रोहित को शाबाशी दे रहे हैं। पंडोह बाजार के ही एक अन्य दुकानदार विशाल वर्मा ने रोहित कुमार द्वारा किए जा रहे कार्य को प्रशंसनीय बताया और उम्मीद जताई कि रोहित द्वारा पंडोह बाजार को दिया जा रहा यह सहयोग भविष्य में भी जारी रहेगा। रोहित जैसे युवा समाज के लिए किसी प्रेरणा स्त्रोत से कम नहीं। अगर लोग इसी तरह से अपनी भागीदारी निभाते रहें और अपने क्षेत्र के बारे में सोचते रहें तो वहां पर कोरोना तो क्या, कोई भी बीमारी पैर नहीं पसार सकेगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है