Covid-19 Update

59,032
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
116,748,718
मामले (भारत)
11,192,088
मामले (दुनिया)

High tech: Exam में नकल रोकने को Central Monitoring Room

High tech: Exam में नकल रोकने को Central Monitoring Room

- Advertisement -

धर्मशाला। मार्च का महीना शुरू होते ही स्कूलों में परीक्षाओं का दौर भी शुरू होने वाला है। पेपर के दौरान किसी भी तरह की नकल को रोकने के लिए शिक्षा बोर्ड ने भी कमर कस ली है। बोर्ड ने 10वीं तथा 12वीं कक्षाओं की वार्षिक परीक्षाओं के संचालन के लिए बोर्ड मुख्यालय में केंद्रीय निगरानी कक्ष की स्थापना कर दी है।

  • बोर्ड मुख्यालय में हुई स्थापना, 2 से शुरू करेगा काम
  • अब परीक्षा केंद्रों की हर गतिविधि पर रहेगी नजर

इस निगरानी कक्ष में परीक्षाओं के दौरान केंद्रों में परीक्षा से संबंधित जो भी गतिविधियां चलेंगीं उस पर पूरी नजर रखी जाएगी और विशेषकर जिन परीक्षा केंद्रों में कैमरे लगाए गए हैं उसकी सीधी मॉनिटरिंग इस कक्ष में की जाएगी, ताकि परीक्षाओं के दौरान यदि कोई अनियिमितता हो रही हों तो उसके बारे में संबंधित परीक्षा केंद्र के अधीक्षक को तुरंत जानकारी दी जा सके और परीक्षाओं के संचालन में उसकी मदद हो सके। यह निगरानी कक्ष 2 मार्च, 2017 से काम करना शुरू कर देगा और परीक्षाओं की अंतिम तिथि तक काम करता रहेगा। इस निगरानी कक्ष में परीक्षा केंद्रों की मॉनिटरिंग के लिए कम्प्यूटर के जरिए व्यवस्था की गई है, जिसका नियंत्रण उप सचिव (संचालन) के अधीन होगा, जिसमें कम से कम 15 मॉनिटर लगाए गए हैं।

इन मॉनिटर द्वारा परीक्षा केंद्रों पर लगातार नज़र रखी जाएगी और किसी भी अनियमितता की तुरंत सूचना संबंधित उपमंडल अधिकारी नागरिक/ केंद्र समन्वयक तथा केंद्र अधीक्षक को दी जाएगी जो उसका निपटारा करने के लिए तुरंत उचित कार्रवाई करेंगे और परीक्षाओं को सुव्यवस्थित तौर से संचालन करेंगे। उपरोक्त के अतिरिक्त सभी परीक्षा केंद्रों के लिए उपमंडल स्तर पर उड़नदस्तों के गठन के लिए संबंधित उपमंडलाधिकारी नागरिक से आग्रह किया जा चुका है। इसके अतिरिक्त प्रत्येक जिला में उपनिदेशक शिक्षा के स्तर पर भी उड़नदस्तों का गठन किया जा रहा है, जिसके लिए आग्रह पत्र संबंधित उपशिक्षा निदेशकों को भेजे जा चुके हैं। सभी उपमंडल के अंदर उड़न दस्तों का जो भी मूवमेंट होगा उसका समन्वय करेंगे, ताकि ऐसा न हो कि किसी केंद्र में बहुत सारे उड़न दस्ते चले जाएं और किसी केंद्र में कोई भी उड़न दस्ता न जाए। इससे यह भी सुनिश्चित होगा कि उड़न दस्ते सभी क्षेत्रों में एक समान नज़र रख रहे हैं और विशेषकर उन परीक्षा केंद्रों में जा रहें जहां उपमंडल अधिकारी को कोई शिकायत प्राप्त हो रही हो या उन्हें लग रहा हो कि परीक्षा केंद्र संवेदनशील है। उपमंडल अधिकारी नागरिक यह कार्य दिन प्रतिदिन के आधार पर निर्धारण करेंगे।

बोर्ड मुख्यालय स्तर पर भी विशेष उड़नदस्तों का गठन किया जाएगा, जिन्हें आवश्यकता पड़ने पर संवेदनशील केंद्रों में भेजा जाएगा या ऐसे केंद्रों में भेजा जाएगा, जहां से शिकायत प्राप्त हो रही होगी। सभी जिला मुख्यालयों के जिलाधीशों/ पुलिस अधीक्षकों को संबंध मंडलायुक्तों के माध्यम से आग्रह किया गया है कि वह परीक्षा केंद्रों में ऐसे सभी बाहरी तत्वों से आगाह रहे तथा उन्हें रोकें जो परीक्षाओं के सुचारू संचालन में बाधा पहुंचाते हैं अथवा जो परीक्षाओं में अव्यवस्था फैलाने अथवा नकल कराने की मंशा से वहां पहुंचते हैं और अगर आवश्यक हुआ तो ऐसे तत्वों के खिलाफ परीक्षा केंद्र के अधीक्षक के अनुरोध पर उचित कानूनी कार्रवाई करें, जिसमें अपराधिक मामलों को दर्ज करने इत्यादि के विषय भी शामिल होंगे। परीक्षाओं के सुचारू संचालन के लिए बोर्ड मुख्यालय में परीक्षा संबंधी जानकारी एवं मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए अलग से कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जा रहा है जो 2 मार्च, 2017 से प्रातः 8:00 बजे से रात्रि 11:00 बजे तक पूरे परीक्षा की अवधि में काम करता रहेगा। यह इस उदेश्य से किया जा रहा है कि किसी भी परीक्षार्थी उसके अभिभावक या ड्यूटी पर तैनात स्टाफ को किसी जानकारी या सहायता की आवश्यकता हो वह उसे प्रदान की जाएगी, जिसके लिए अलग से दूरभाष नबंर अधिसूचित किए जाएंगे तथा ई मेल एड्रेस भी अधिसूचित किए जाएंगे, ताकि बोर्ड तथा सामान्य नागरिक के बीच तालमेल बना रहे तथा उन्हें किसी परेशानी का सामना न करना पड़े। जनसाधारण अगर चाहे तो बोर्ड द्वारा अधिसूचित ई-मेल पतों पर अथवा अधिसूचित दूरभाष नबंरों पर परीक्षा से संबंधित कोई भी गोपनीय अथवा महत्वपूर्ण जानकारी दे सकते हैं, जिसे गोपनीय रखा जाएगा और परीक्षाओं के संचालन के लिए अपने सुझाव भी दे सकेंगे, जिसका बोर्ड कार्यालय स्वागत करेगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है