Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

अंतरराष्ट्रीय Nursing day पर फ्लोरेंस नाइटिंगेल को किया याद, नर्सों को दिया सम्मान

अंतरराष्ट्रीय Nursing day पर फ्लोरेंस नाइटिंगेल को किया याद, नर्सों को दिया सम्मान

- Advertisement -

ऊना/बिलासपुर/नाहन। आज प्रदेश भर में अंतरराष्ट्रीय नर्सिंग दिवस (International Nursing Day) मनाया गया। इसके चलते आज प्रदेश के करीब सभी अस्पतालों में नर्सों को सम्मानित किया गया। इसी कड़ी में आज क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में अंतरराष्ट्रीय नर्सिंग दिवस कोरोना महामारी के चलते सादे रूप में मनाया गया। इस दौरान सीएमओ ऊना डॉ. रमन शर्मा ने क्षेत्रीय अस्पताल में सेवाएं देने वाली नर्सों को सम्मानित किया। वहीँ कार्यक्रम में कोरोना वायरस (Coronavirus)  को लेकर जारी निर्देशों का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखा गया। सीएमओ ऊना  ने कहा कि विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस 12 मई को मनाया जाता है। यह दिन नोबल नर्सिंग की सेवा करने वाली फ्लोरेंस नाइटिंगेल (Florence Nightingale) के जन्मदिवस पर आयोजित होता है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से लड़ने में नर्सों और अन्य स्वास्थ्य कर्मियों के साहसी काम को पूरे विश्व में सराहा जा रहा है।

यह भी पढ़ें: ‘प्रधान, आशा वर्कर-Health Worker बाहर से आने वाले लोगों के पहुंचने से पहले उनके घर पहुंचे’


इसी तरह से क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में मंगलवार को नर्सिंग-डे मनाया गया। दिन.रात सेवाएं दे रही नर्सों ने नर्सिंग अधीक्षक सिस्टा गौतम की अध्यक्षता में फ्लोरेंस नाइटिंगेल की तस्वीर पर पुष्प अर्पित करके उन्हें याद किया। साथ ही देश को कोरोना मुक्त करने की शपथ ग्रहण की। नर्सिंग अधीक्षक सिस्टा गौतम ने बताया कि 12 मई, 1820 को सदी की नायिका पहली नर्स फ्लोरेंस नाइटिंगेल का जन्म हुआ था। अमीर घर में जन्म लेने के बावजूद उन्होंने लोगों की सेवा करने के लिए नोबल प्रोफेशन को चुना। उन्हीं की याद में नर्सिंग डे मनाया जाता है।

वहीं नाहन में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल ने आज विश्व नर्सिंग दिवस के अवसर पर डा. यशवंत सिंह परमार मैडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, नाहन में नर्सिंग सेवा से जुड़ी बहनों को 200 फेस शील्ड वितरित किए। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि सेवा और समर्पण नर्सिंग के मूल सिद्धांत हैं और नर्सिंग कार्य को विश्व स्तर पर मानवीय सेवा के लिए जाना जाता है। उन्होंने कोरोना महामारी के बीच अपने और अपने परिवार के स्वास्थ्य की चिंता किए बिना निरंतर अस्पताल में सेवाएं प्रदान कर रहीं नर्सों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनकी सेवाओं को हमेशा याद रखा जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है