Covid-19 Update

57,189
मामले (हिमाचल)
55,796
मरीज ठीक हुए
960
मौत
10,655,435
मामले (भारत)
99,333,754
मामले (दुनिया)

जिस घर में Toilet नहीं, वहां निकाह पढ़ने न जाएं मौलवी और मुफ्ती

जिस घर में Toilet नहीं, वहां निकाह पढ़ने न जाएं मौलवी और मुफ्ती

- Advertisement -

गुवाहाटी।  जिस घर में टॉयलेट न हो, मौलवी और मुफ्ती वहां निकाह पढ़ने न जाएं। जमीयत-उलामा-ए-हिंद के सेक्रेटरी जनरल मौलाना महमूद मदनी ने कहा है कि  हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और पंजाब के मौलवियों और मुफ्तियों ने यह फैसला कर लिया है। जल्द ही इसे पूरे देश में लागू  किया जाएगा। मौलाना मदनी ने कहा, “हरियाणा, हिमाचल और पंजाब में मुस्लिम विवाह के लिए शर्त के तौर पर टॉयलेट होना जरूरी कर दिया गया है।

  • जमीयत-उलामा-ए-हिंद के सेक्रेटरी जनरल मौलाना महमूद मदनी ने जारी किया फरमान

इस शर्त को जल्द ही देश के बाकी सभी राज्यों में भी लागू किया जाएगा।” राज्यसभा के पूर्व सांसद मदनी ने यहां खानापारा में पिछले हफ्ते असम कॉन्फ्रेंस ऑफ सैनिटेशन (ASCOSAN) 2017 के इनॉगरेशन के दौरान यह घोषणा की। मदनी ने कहा, “मुझे लगता है कि देश में सभी धर्म के लीडर्स को यह फैसला करना चाहिए कि वे उस घर में कोई भी धार्मिक रस्मो-रिवाज नहीं करेंगे जहां टॉयलेट नहीं होगा। मदनी ने साफ-सफाई पर जोर देते हुए लोगों से टॉयलेट इस्तेमाल करने को कहा। उन्होंने कहा कि न सिर्फ असम बल्कि पूरे देश को स्वच्छ बनाएं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है