Covid-19 Update

38,995
मामले (हिमाचल)
29,753
मरीज ठीक हुए
613
मौत
9,390,791
मामले (भारत)
62,314,406
मामले (दुनिया)

बारिश-बर्फबारी के बीच केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदेश भर में हल्ला बोल, प्रदर्शन के साथ की नारेबाजी

बारिश-बर्फबारी के बीच केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदेश भर में हल्ला बोल, प्रदर्शन के साथ की नारेबाजी

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी। केन्द्रीय ट्रेड यूनियनों और विभिन्न फेडरेशनों के आह्वान पर आज पूरे प्रदेश में केंद्र सरकार के खिलाफ धरने प्रदर्शन किए गए। प्रदेश में सीटूए इंटकए एटक सहित देश की दस केंद्रीय ट्रेड यूनियनों व सार्वजनिक क्षेत्र के मजूदरों ने इसमें हिस्सा लिया। प्रदेश में हो रही बारिश और बर्फबारी के बीच लोगों ने रैलियां निकाली और प्रदर्शन करते हुए केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

यह भी पढ़ें: चार दिन से जारी बर्फबारी बरपा रही कहर, Mandi में 83 सड़कें ठप, 654 ट्रांसफार्मर बंद

राजधानी शिमला में मजदूरों ने बर्फबारी के बीच जोरदार प्रदर्शन किया। शिमला शहर के अलावा ठियोग, रामपुर, रोहड़ू व चौपाल आदि में प्रदर्शन किए गए, जिसमें सैंकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया। पहली बार शिमला शहर की 18 टैक्सी यूनियनें इस हड़ताल में शामिल हुईं। शिमला शहर में हुए प्रदर्शन का नेतृत्व सीटू राज्याध्यक्ष विजेंद्र मेहरा के अलावा अन्य यूनियनों और फैडरेशनों के अध्यक्षों ने किया। शिमला शहर में सैंकड़ों मजदूर सुबह 11 बजे भारी बर्फबारी के बीच पंचायत भवन में एकत्रित हुए और घंटों नारेबाजी की। आज प्रदेश भर में की गई हड़ताल के मुख्य मुद्दों में पक्के व स्थाई रोजगार, सार्वजनिक क्षेत्र को बचाने, श्रम कानूनों में किए जा रहे बदलाव को रोकने, पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली, न्यूनतम वेतन 21 हजार रुपये करने, मजदूरों की सामाजिक सुरक्षा बहाली, स्कीम वर्कर्स आंगनबाड़ी, मिड डे मील आशा वर्करज को सरकारी कर्मचारी घोषित करने व मनरेगा मजदूरों को भी न्यूनतम वेतन लागू करने, समान काम का समान वेतन लागू करने आदि शामिल हैं।

 

हमीरपुर के गांधी चौक में लोगों ने निकाला गुब्बार

हमीरपुर। ट्रेड यूनियनों के राष्ट्र व्यापी हड़ताल के तहत हमीरपुर बाजार में भी सैंकड़ों लोग सड़कों पर उतरे और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान सरकार पर मजदूर विरोधी और कापरेट घरानों को फायदा पहुंचाने के लिए कानून में बदलाव करने के आरोप लगाए। ट्रेड यूनियन की राष्ट्रव्यापी हड़ताल में सीटू से संबंधित आंगनवाड़ी वर्कर, बिजली बोर्ड यूनियन, एलआईसी कर्मचारी यूनियन सहित अन्य यूनियन के कार्यकर्ताओं ने गांधी चौक पर धरना प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ अपना गुब्बार निकाला। सीटू जिला अध्यक्ष जोगिन्द्र सिंह ठाकुर ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार मजदूर विरोधी है और लोगों को गुमराह कर निजी कंपनियों को फायदा देने के लिए सरकारी कंपनियों को बेचने का काम कर रही है।

 

केंद्र सरकार देश के कर्मचारी व मजदूरों का कर रही शोषण

कुल्लू। जिला मुख्यालय में भारत बंद के आह्वान पर दर्जनों ट्रेड यूनियनों ने धरना प्रदर्शन कर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और दर्जनों ट्रेड यूनियनों के सैंकड़ों मजदूरों व कर्मचारियों ने केंद्र सरकार की मजदूर व कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ सड़क पर उतर कर जोरदार प्रदर्शन किया। सीटू के जिलाध्यक्ष सर चंद ठाकुर ने बताया कि आज सार्वजनिक उपक्रमों को केंद्र सरकार निजी हाथों में दे रही है। जिससे मजदूरों का शोषण हो रहा है। उन्होंने कहा कि निर्माण मजदूर का न्यूनतम वेतन 18,000 से अधिक होना चाहिए। आंगनवाड़ी वर्कर, मिड डे मील वर्कर के लिए नीतियां बनाई जाएं।

 

बिलासपुर में अपनी मांगों को लेकर पीएम को भेजा ज्ञापन

बिलासपुर। बारिश के बीच बिलासपुर में भारी संख्या में पहुंचे कामगारों ने आज जमकर विरोध प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। सभी यूनियनों के कर्मचारियों ने धरना.प्रदर्शन करते हुए डीसी कार्यालय तक रैली निकाली। इस दौरान डीसी बिलासपुर राजेश्वर गोयल के माध्यम से अपनी मांगों को लेकर एक ज्ञापन पीएम और राष्ट्रपति को भेजा। ट्रेड यूनियनों ने संयुक्त बयान में कहा कि मौजूदा केंद्र सरकार मजदूर विरोधी नीति अपनाए हुए है। उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियों को चलते आए दिन लोग अपनी नौकरियां गवां रहे हैं जबकि केंद्र की बीजेपी सरकार नौकिरयां देने के वादे से सत्ता में आई थी।

 

अपनी मांगों के लिए पड्डल से सेरी मंच तक निकाली रैली

मंडी। केन्द्रीय ट्रेड यूनियनों व राष्ट्रीय फैडरेशनों के संयुक्त आहवान पर मंडी के सेरी मंच पर धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान सैंकड़ों की संख्या में मजदूर यूनियनों के सदस्यों ने पड्डल मैदान से शहर के सेरी मंच तक रैली निकाली। इस दौरान विभिन्न संगठनों के सदस्यों ने केन्द्र व प्रदेश सरकार के विरोध में नारे लगाए। इस हड़ताल में आंगनबाड़ी, मिड डे मिल, रेहड़ी-फहड़ी, एचपीएमआरए, फोरलेन, आउटसोर्स वर्कर्स, सड़का एवं भवन निर्माण यूनियन, हिमाचल किसान सभा आदि संगठनों ने भाग लिया।

 

केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ कर्मचारी यूनियनों ने जताया विरोध  

सुंदरनगर। भारत सरकार की कर्मचारी व मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ बुधवार को बीएसएल परियोजना में इंटक, एटक, सीटू, एआईआईईए, बीईएफआई, बीएसएनएलईयू व एचएमएस की केन्द्रीय कर्मचारी एवं श्रमिक समन्वय समिति द्वारा गेट मिटिंग पर विरोध प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर बीबीएमबी कर्मचारी यूनियन (सीटू) के महासचिव चरणजीत सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि बीजेपी की नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार देश में सार्वजनिक क्षेत्रों व सरकारी विभागों का निजीकरण कर उन्हें कौडिय़ों के भाव बेचने पर अमादा है।

 

सोलन में गरजे सैंकड़ों मजदूर

सोलन। राष्ट्रव्यापी हड़ताल के तहत जिला सोलन में सीटू के बैनर तले विभिन्न संगठनों ने केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कियाओ बाईपास सपरून चौक से लेकर विरोध रैली पुराने डीसी कार्यालय तक निकाली गई। जिसमें सैंकड़ों मजदूरों ने भाग लिया। मजदूरों ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया गया। इस प्रदर्शन में मनरेगा मजदूरों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, एलआईसी वर्कर समेत विभिन्न मजदूर संगठनों ने अपनी सहभागिता दर्ज करवाई. श्रम कानूनों को खत्म करने के खिलाफ यह विरोध रैली निकाली गई।

 

लूमिस उद्योग के कामगारों ने अंब में निकाली रैली

अंब। केंद्र सरकार की मजदूर कर्मचारी विरोधी नीतियों के खिलाफ हड़ताल का असर अंब बाजार में भी देखने को मिला। लूमिस उद्योग के कामगारों ने एक विशाल रैली रामलीला ग्राउंड से एसडीएम ऑफिस तक निकाली। इस मौके पर लुमिनस उद्योग के यूनियन अध्यक्ष मनोज कुमार, सीटीयू के प्रदेश महासचिव प्रेम गौतम  केके राणा ब्लॉक अंग आम व समिति के वाइस चेयरमैन  सुरेश मियां ,प्रवीण शर्मा, अश्विनी कुमार, पंकज कुमार, अविनाश कुमार, संजय कुमार, अजय कुमार ,गौतम बुध शामिल हुए।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है