×

साहब! जबरदस्ती बना दिया हिजड़ा

साहब! जबरदस्ती बना दिया हिजड़ा

- Advertisement -

नूरपुर। नौकरी के नाम पर 14 साल के युवक के साथ हैवानगी का मामला पेश आया है। नूरपुर में हुए दिल दहला देने वाली इस घटना का शिकार अब खुद को न तो मर्द कह पा रहा है और न ही औरत। डीएसपी नूरपुर के पास शिकायत लेकर पहुंचा जगदीश उर्फ भारती ने कई चौकान्ने वाले खुलासे किए हैं। अपनी व्यथा सुनाते हुए जगदीश ने बताया कि उसे जबरदस्ती हिजड़ा बनाया गया है।


  • पंजाब के जगदीश ने नूरपुर की मंजू महंत पर लगाया आरोप
  • डीएसपी का वादा, दो दिन में होगा मामले का खुलासा

पंजाब के बटाला से संबंध रखने वाला यह युवक जगदीश (उर्फ़ भारती जो उसे वर्तमान में नाम मिला है)  ने अपनी शिकायत में बताया कि वह गरीब परिवार से संबंधित था और उसे काम की तलाश थी। उसे किसी ने मंजू महंत जो कि गंगथ कस्बे के तहत नूरपुर में रहती है और हिजड़ा समुदाय से है के पास काम करने के लिए कहा। जगदीश का कहना है कि उस समय वह 14 साल का था और उसे वहां पर झाड़ू-पोछा और खाना बनाने का काम दिया गया। एक साल तक तो उसे बड़े प्यार से रखा गया, लेकिन उसके बाद उन्होंने उसे दिल्ली घुमाने की बात कही। उसके मना करने के बाद भी वह उसे ले गए, लेकिन वह दिल्ली की बजाय उसे आंध्र प्रदेश पहुंचा दिया गया।

वहां पर उसके खाने में कोई नशीली चीज मिला दी गई और उसकी पीठ में इंजेक्शन लगाया गया। जब उसे होश आया तो उसके शरीर पर हर जगह सुइयां लगी हुई थी। इस दौरान उसे अहसास हुआ कि उसका गुप्तांग काट दिया गया है। जगदीश ने बताया कि उसे वहां पर कड़ी यातना भी दी गई और 12 दिन के बाद उबलता हुआ पानी उसकी टांगों के बीच डाला गया। जगदीश का कहना है कि उसे धमकी भी दी गई कि इस बारे में अगर उसने किसी को कुछ बताया तो उसे जान से मार दिया जाएगा। इस खौफ में वह सात साल तक हिजड़ा के रूप में काम करता रहा। उसका कहना है कि उसके पास जो भी पैसे इकट्ठे हुए थे उन लोगों ने उसे भी छीन लिया। जगदीश का कहना है कि गंगथ की मंजू महंत (हिजड़ा) के साथ उन्होंने पठानकोट से संबंधित राज्जी महंत (हिजड़ा) जो एक डॉन के रूप में जानी जाती है, की शह भी इन लोगों को प्राप्त है।

डीएसपी नूरपुर को सौंपी गई शिकायत में जगदीश ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश महासचिव लेखराज ने बताया कि यह एक गिरोह है जो गरीबों और बेसहारा बच्चों की मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें उठा ले जाते है और उन्हें हिजड़ा बना कर उनकी कमाई खाता है। उनके अनुसार जहां नूरपुर पुलिस को गंगथ की मंजू महंत पर शीघ्र कार्रवाई करनी चाहिए वहीं पंजाब सरकार पठानकोट के राज्जी महंत पर भी कड़ी कार्रवाई करें, ताकि वहां पर अगर इस तरह के बच्चे हैं उन्हें छुड़ाया जा सके। उधर, डीएसपी नूरपुर ने इस संबंध में दो दिन के भीतर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि वह निजी तौर पर इस मामले की गहन जांच करेंगे और जल्द मामले का पटाक्षेप होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है