Covid-19 Update

2,00,832
मामले (हिमाचल)
1,95,254
मरीज ठीक हुए
3,440
मौत
30,028,709
मामले (भारत)
179,981,557
मामले (दुनिया)
×

लोकसभा से पास हुआ ट्रांसजेंडर बिल, जानें क्यों हो रहा है इसका विरोध

लोकसभा से पास हुआ ट्रांसजेंडर बिल, जानें क्यों हो रहा है इसका विरोध

- Advertisement -

नई दिल्ली। ट्रांसजेंडर (transgender) के अधिकारों की रक्षा के लिए (Protection of rights) बिल- 2019 लोकसभा (Loksabha) में पास कर दिया गया है। इस बिल के पास होने के पहले कांग्रेस, डीएमके और टीएमसी ने खूब विरोध किया था। जब 5 अगस्त को इस बिल को सदन में लाया गया था तो कांग्रेस, डीएमके (DMK) और टीएमसी सांसदों (TMC MPs) ने इसके विरोध में नारेबाजी की। सरकार ने इस बिल पर चल रहे विरोध को नजरअंदाज करते हुए इसे पास कर दिया था। जानें क्यों इस बिल का विरोध किया जा रहा है।


यह भी पढ़ें- वीडियो: कश्मीरी युवक ने की पीएम से सीधी अपील- सब बन गया है, अब दारू दुकान खुलवा दो


इस बिल के पास हो जाने के बाद किसी ट्रांसजेंडर (transgender) से जबरदस्ती मजदूरी कराने की शिकायत अपराध मानी जाएगी। इसके अलावा उन्हें घर, गांव-गली, मुहल्ले से निकालना या सार्वजनिक जगहों से हटाना भी अपराध (Crime) होगा। उनके साथ किसी भी तरह की हिंसा, शारीरिक यौन हिंसा, शोषण या गालीगलौच करने पर कानूनी कार्रवाई हो। अगर किसी को भी इस तरह का अपराध करते पाया जाता है तो उसे छह माह से दो साल तक जेल की सजा दी जाएगी।

उन्हें रहने, पुनर्वास और प्रॉपर्टी (Property) खरीदने का पूरा अधिकार मिलेगा। अगर किसी ट्रांसजेंडर्स का परिवार उसकी केयर नहीं करता है तो वह रीहबिलटैशन सेंटर में रह सकता है। इसके अलावा वो किराए का घर लेकर भी रह सकता है। देशभर में इस बिल का विरोध हो रहा है। ट्रांसजेंडर कम्युनिटी ने जिस दिन बिल पास हुआ, उसे जेंडर जस्टिस मर्डर डे कहा है। कुछ ट्रांसजेंडर्स का कहना है कि यह बिल उनके समुदाय के लोगों की हत्या करने के जैसा है। सबसे पहले सरकार को लोगों के लिए कानून और स्कीम ड्राफ्ट करना था। हमारे लिए ये बिल केवल एक कोरा कागज है। ये ट्रांस लोगों की जिंदगी में कोई बदलाव नहीं लाने वाला है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है