Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

Bali के खोखले वादेः Dharampur Bus अड्डे को नहीं मिले One Crore

Bali के खोखले वादेः Dharampur Bus अड्डे को नहीं मिले One Crore

- Advertisement -

मंडी। बाढ़ में तहस-नहस हुए धर्मपुर बस स्टैंड के जख्म अभी भी हरे ही हैं, आपदा के दौरान परिवहन मंत्री जीएस बाली ने उस वक्त एक करोड़ रुपए देने की घोषणा तो कर दी थी, लेकिन उसके बाद हालात सुधरे या नहीं यह जानने की जहमत नहीं की। वर्ष 2015 में धर्मपुर में आई बाढ़ का भयानक मंजर अभी भी लोगों के दिलो दिमाग में पूरी तरह से ताजा है। आज भी इस इलाके के लोग उस मंजर को भुला नहीं पाए हैं।


  • बाढ़ के बाद आकर मौके पर बोल गए थे एक करोड़ देने की बात
  • अब जब नहीं आई राशि तो बाली कह रहे हैं एक नहीं डेढ़ करोड़ था
  • हैरानी की बात यह है कि न ही तो मिल पाया एक न ही डेढ़ करोड़

बाढ़ के कारण सबसे ज्यादा नुकसान धर्मपुर के बस स्टैंड को हुआ था। बाढ़ के कुछ दिन बीतने के बाद परिवहन मंत्री जीएस बाली मौके पर पहुंचे थे और नुकसान का आंकलन किया था। उस वक्त बाली ने धर्मपुर बस स्टैंड की मरम्मत और यहां पर खड्ड के किनारे सुरक्षा दीवार लगाने के लिए एक करोड़ रुपए देने की बात कही थी।


बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त हुई बसों को काफी लंबे समय के बाद यहां से उठाया गया था, लेकिन जो पैसा देने की बात हुई थी उसका जमीनी स्तर पर आज दिन तक कोई काम होता हुआ नजर नहीं आया है। स्थानीय लोगों को वह दिन आज भी याद है जब  बाली ने उनके इलाके के क्षतिग्रस्त बस स्टैंड पर खड़े होकर एक करोड़ रुपए देने की बात कही थी। अब लोग पूछ रहे हैं कि वह पैसा आज दिन तक खर्च क्यों नहीं हो पाया। क्यों लोगों के साथ इस प्रकार का भेदभाव किया जा रहा है। वहीं जब इस बारे में परिवहन मंत्री जीएस बाली से पूछा गया तो उन्होंने मरम्मत कार्य के लिए जारी की गई एक करोड़ की राशि को डेढ़ करोड़ बताया। बाली के अनुसार बस स्टैंड के लिए डेढ़ करोड़ की राशि जारी कर दी गई है और कार्य प्रगति पर है, लेकिन धरातल की सच्चाई सभी के सामने है। यहां गौर करने वाली बात यह भी है कि यह बस स्टैंड प्रदेश के पूर्व परिवहन मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर के गृह हलके में है। ऐसे में प्रतीत यह भी हो रहा है कि शायद विपक्षी दल के इलाके का काम होने के कारण शायद सरकार इसमें कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है