Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,622
मामले (भारत)
196,707,763
मामले (दुनिया)
×

त्रिलोकीनाथ Temple के कपाट स्थानीय श्रद्धालुओं के लिए खोले, गर्भगृह की परिक्रमा पर रहेगी पाबंदी

त्रिलोकीनाथ Temple के कपाट स्थानीय श्रद्धालुओं के लिए खोले, गर्भगृह की परिक्रमा पर रहेगी पाबंदी

- Advertisement -

उदयपुर। कोरोना महामारी के बीच जिला के लाहुल स्पीति (Lahaul Spiti) के त्रिलोकीनाथ मंदिर के कपाट स्थानीय श्रद्धालुओं (local Devotees) के लिए खोल दिए हैं। स्थानीय लोग अब अपने आराध्य देव के दर्शन कर सकते हैं। हालांकि प्रशासन ने इसको लेकर कुछ दिशा निर्देश भी जारी किए हैं। जिनके अनुसार मंदिर में श्रद्धालुओं के प्रसाद ग्रहण करने, घंटी बजाने, सत्य और पाप स्तंभ के बीच से गुजरने और गर्भगृह की परिक्रमा पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी। मंदिर कमेटी भी सरकार के दिशा निर्देशों का पूरी तरह से पालन कर रही है। श्रद्धालुओं के बीच सामाजिक दूरी का पालन करवाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: पुरी में ऐतिहासिक रथयात्रा के बीच Corona Positive निकला मंदिर का सेवादार

बता दें कि बीते रविवार को सूर्यग्रहण के दौरान काफी श्रद्धालु त्रिलोकी नाथ मंदिर में दर्शन करने पहुंचे। मंदिर से दर्शन कर लौटे लोगों ने बताया कि मंदिर कमेटी कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सरकार के तमाम दिशा- निर्देशों का पालन कर रही है। उन्होंने कहा कहा कि मंदिर में गर्भगृह की परिक्रमा, सत्य व पाप के स्तंभ के बीच ना गुजरने से भगवान के दर्शन कुछ हद तक अधुरे से लग रहे हैं। वहीं, मंदिर के पुजारी लामा रिगजिन ने बताया कि मंदिर में रोजाना श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। त्रिलोकीनाथ मंदिर कमेटी के अध्यक्ष एवं एसडीएम उदयपुर कृष्ण चंद ने बताया कि कोविड-19 को लेकर सरकार के आदेशों का पालन किया जा रहा है। बाहरी श्रद्धालुओं के मंदिर में आने पर पूरी तरह से रोक है। सिर्फ स्थानीय लोग ही सोशल डिस्टेसिंग के साथ मंदिर में पहुंचकर दर्शन कर रहे हैं।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है