Covid-19 Update

58,800
मामले (हिमाचल)
57,367
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,137,922
मामले (भारत)
115,172,098
मामले (दुनिया)

ट्रक चालक के बेटे का NEET 2019 में हुआ सलेक्शन, बनेगा डॉक्टर

ट्रक चालक के बेटे का NEET 2019 में हुआ सलेक्शन, बनेगा डॉक्टर

- Advertisement -

 

नई दिल्ली। आम जिंदगी में गरीबी के कारण लोग अक्सर पढाई पर ध्यान नहीं दे पाते हैं और हालात से समझौता कर लेते हैं। वहीं राजस्थान के जैसलमेर जिले से सामने आए ताजा मामले में एक गांव में एक ट्रक ड्राइवर के बेटे (Truck driver son) ने गरीबी को चुनौती देते हुए NEET 2019 में सलेक्शन लेकर इस सामान्य सोच को झुठला दिया है। मिली जानकारी के मुताबिक जैसलमेर जिले के धौलिया गांव निवासी अभिषेक विश्नोई ने NEET 2019 में अपना चयन पक्का कर लिया है। अभिषेक के पिता जगदीश विश्नोई पेशे से एक ट्रक चालक हैं। वे अपने बढ़े भाई के स्वामित्व वाले ट्रक को चलाकर परिवार का पेट पालते हैं।

यह भी पढ़ें:- कांग्रेस सांसद ने राज्यसभा में उठाया दिल्ली से धर्मशाला के हवाई किराए में बढ़ोतरी का मुद्दा

यहां पढ़ें पिता-पुत्र के संघर्ष की पूरी दास्तान

अभिषेक के चयन की बात सुनकर पूरे गांव में उनकी लगन वह उसके पिता की कड़ी मेहनत की मिसाल दी जा रही है। बता दें की अभिषेक ने परीक्षा में 612 अंक प्राप्त किए हैं। वहीं जनरल श्रेणी में उसकी ऑल इंडिया रैंक 5305 है। रिपोर्ट के अनुसार उनके गांव की आबादी 1000 लोगों की है और वहां सिर्फ 300 घर हैं। अब अभिषेक अपने गांव से पहले डॉक्टर (doctor) बनने वाले हैं। अपने हालातों के बारे में बताते हुए अभिषेक ने कहा की परिवार में माता-पिता और हम दो भाई हैं पापा जगदीश विश्नोई आठवीं पास हैं और ट्रक चलाते हैं। ट्रक ताऊजी का है और वो ड्राइवर के रूप में नौकरी करते हैं। मां पुष्पा देवी निरक्षर हैं, छोटे भाई सुमित ने इस वर्ष 12वीं पास की है। बताया गया कि उनके परिवार को सरकार द्वारा बॉर्डर पर जमीन मिली है जो की गांव से 150 किमी दूर स्थित है। इस जमीन पर सर्दी में पानी नहीं रहता है और गर्मी में खेती के दौरान घर छोड़कर ज़मीन के पास परिवार को रहना पड़ता है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है