Expand

झुर्रियां-स्टैचमार्क हैं तो जरूर ट्राई करें कैंडल हॉट वैक्‍स मसाज

झुर्रियां-स्टैचमार्क हैं तो जरूर ट्राई करें कैंडल हॉट वैक्‍स मसाज

- Advertisement -

चेहरे पर ग्लो लाने व झुर्रियों को कम करने के लिए मसाज सबसे बेस्ट तरीका है। अधिकांश लोग स्ट्रेस और टेंशन से छुटकारा पाने के लिए बॉडी मसाज कराते हैं। क्रीम व ऑयल से मसाज तो आप अकसर करवाते ही होंगे। अगर आप झुर्रियों और स्‍ट्रेक्‍च मार्क्‍स से निजात पाना चाहते हैं तो कैंडल हॉट वैक्‍स मसाज को जरूर ट्राय करें। कहते हैं कि पुराने जमाने में रानी-महारानियां अपनी खूबसूरती बरकरार रखने के ल‍िए इस नुस्‍खे को अपनाती थी। आप हैरान हो रहे होंगे कि कैंडल हॉट मसाज कैसे करते हैं। हम आप को बताते हैं, इसके लिए मोमबती से पिघलकर आने वाली हॉट वैक्‍स से शरीर की मसाज की जाती थी। यह वैक्स शरीर की कई समस्‍याओं को जड़ से ही मिटा देता है। प्राचीन काल की ये मसाज तकनीक इन दिनों स्‍पा और सैलून में ब्‍यूटी इन्‍हेच करने वाली टेक्नीक में बहुत ज्‍यादा पॉप्‍युलर है। इसलिए जानते है इसके फायदों के बारे में।

कैंडल थेरेपी में कैंडल यानी मोमबती को जलाकर पिघलाया जाता है। इसके बाद इससे न‍िकलने वाली वैक्‍स से बॉडी के विभिन्‍न ह‍िस्‍सों पर स्‍क्रब किया जाता है। स्‍क्रब के बाद हॉट टॉवल से बॉडी को रैप किया जाता है। इससे बॉडी से डेड स्किन को मॉइश्‍चराइज किया जाता है। फिर स्किन पर ब्राइटनिंग पैक लगाया जाता है। इसमें कैंडल के साथ जोजोबा ऑयल, कोकोआ बटर और विटामिन ई जैसे तेलों का मिश्रण होता है इसल‍िए ये मसाज शरीर के कई ब्‍यूटी से र‍िलेटेड समस्‍या को दूर करनेका बेहतरीन तरीका है।

त्‍वचा में लाए कसाव कैंडल मसाज से एजलाइन छिपाने में मदद मिलती है। चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों और ढीली स्किन की समस्‍या कम होती है और त्‍वचा में कसाव आता है। इसके अलावा ये मसाज थेरेपी वजन कम करने के बाद ढीली त्‍वचा में भी कसावट लाने का काम करती है। ब्‍लड सर्कुलेशन होता है प्रॉपर इसका सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि इससे रक्‍त संचार सही ढंग से होता है, जिससे आपकी हेल्‍थ और ब्‍यूटी प्रॉब्‍लम दूर हो जाती है।

अगर प्रेगनेंसी के बाद आपके त्‍वचा पर स्‍ट्रेच मार्क्‍स रह गए है तो आप कैंडल वैक्‍स मसाज के जरिए इन स्‍ट्रेच मार्क्‍स का इलाज करवा सकते है। सायरोसिस, खुजली और जलन को दूर करें इस मसाज की तकनीक में मोमबती की मोम के अलावा कई और सामग्रियों का इस्‍तेमाल किया जाता है। जिससे आपकी स्किन रिलेटेड कई समस्‍याओं का हल होता है। जैसे सायरोसिस, खुजली और जलन को ये कम करता है। कैंडल मैनीक्‍योर और पेडीक्‍योर कैंडल मसाज थेरेपी से आप मेनीक्‍योर और पेडीक्‍योर भी ले सकते हैं। इसमें नाखूनों को फाइल, शेपिंग, क्‍यूटल पर क्रीम लगाने और सफाई शामिल होती है। इस ट्रीटमेंट में कैंडल की हॉट वैक्‍स को मैनीक्‍योर और पेडीक्‍योर में शामिल किया जाता है। जो सर्दियों में आपके हाथ पांव की त्‍वचा को नमी युक्‍त रखता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है