Expand

खुलासा : चिंतपूर्णी माता के चढ़ावे से White होनी थी Black Money

खुलासा : चिंतपूर्णी माता के चढ़ावे से White होनी थी Black Money

- Advertisement -

ऊना। चिंतपूर्णी मंदिर में 500 और एक हजार के पुराने नोट मंदिर के चढ़ावे से बदलने की कोशिश का मामला एसडीएम अम्ब की जांच रिपोर्ट में पुष्ट हो गया है। इस मामले में वायरल हुआ ऑडियो जांच में सही पाया गया है। एसडीएम की जांच में कई और अहम खुलासे भी हुए हैं।

  • investigationडीसी ऊना जांच रिपोर्ट को सचिव,  भाषा, कला एवं संस्कृति विभाग को भेजेंगे जो इस मामले पर अगामी कार्रवाई करेंगे।

पुराने नोट बंद होने के बाद चिंतपूर्णी मंदिर के चढ़ावे की करंसी से लोगों के नोट बदलने के प्रयास के मामले का एक ऑडियो सामने आने के बाद जिला प्रशासन ने मामले की जांच एसडीएम अम्ब सुनील वर्मा को सौंपी थी। जांच रिपोर्ट मंदिर न्यास के अध्यक्ष व जिलाधीश विकास लाबरू को सौंप दी गई है। सूत्रों के अनुसार एसडीएम अम्ब की जांच में नोटों को बदलने के प्रयास के आरोपों की पुष्टि के साथ-साथ कई अन्य अहम खुलासे भी हुए हैं। हालांक डीसी विकास लाबरू प्रारंभिक जांच रिपोर्ट का आंकलन करने के बाद आगामी कार्रवाई के लिए प्रदेश सरकार को प्रेषित करने की बात कर रहे हैं।

black-moneyडीसी ऊना द्वारा इस रिपोर्ट को सचिव, भाषा, कला एवं संस्कृति विभाग के पास भेजा जाएगा, जो इस मामले पर अगामी कार्रवाई करेंगे। यह पूरा मामला मंदिर ट्रस्ट के अधिकारी व कर्मचारी के साथ-साथ बैंक कर्मी की संलिप्ता का है। बैंक कर्मी जिला प्रशासन के तहत नहीं आता, ऐसे में बैंक की भूमिका की भी जांच हो, इसके लिए मामले में जांच एजेंसी तैनात करने की भी सिफारिश हो सकती है।

सूत्रों की मानें तो प्रांरभिक रिपोर्ट में मनी एक्सचेंज को लेकर मंदिर अधिकारी व कर्मचारी के साथ-साथ बैंक कर्मी के बीच बातचीत की पुष्टि हुई है। जांच के दौरान आरोपियों ने यह बात भी स्वीकार कर ली है।

  • इस मामले में मंदिर कर्मी पंकज मुख्य कड़ी रहे हैं। उन्होंने जांच के दौरान तीन पेज की लिखित शिकायत एसडीएम को सौंपी थी और अपने बयान में पूरे मामले की कड़ियां एसडीएम के सामने रखी थीं।

इसके बाद सीसीटीवी कैमरे की फुटेज, मंदिर अधिकारी, सहायक मंदिर अधिकारी व अन्य कर्मियों से की गई पूछताछ के बाद एसडीएम ने जांच रिपोर्ट ने कुछ सुझाव भी दिए हैं। डीसी ऊना विकास लाबरू ने माना कि जल्द ही रिपोर्ट आगामी कार्रवाई के लिए सरकार को भेजी जाएगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है