Covid-19 Update

1,99,197
मामले (हिमाचल)
1,91,732
मरीज ठीक हुए
3,394
मौत
29,627,763
मामले (भारत)
177,191,169
मामले (दुनिया)
×

दो माह बाद भी नहर में डूबे वाहनों का कुछ पता नहीं

दो माह बाद भी नहर में डूबे वाहनों का कुछ पता नहीं

- Advertisement -

सुंदरनगर।मंडी जिला की सुंदरनगर बीएसएल परियोजना नहर में दो माह पूर्व 18 सितंबर की रात एक जीप व तेल के टैंकर के नहर में समा जाने वाली घटना ने सुंदरनगर सहित पूरे प्रदेश को हिला कर रख दिया था। इस दुर्घटना में वाहन सहित तीन लोग लापता हो गए थे,जिनका आज दिन तक सुंदरनगर प्रशासन, बीबीएमबी व पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।

गौरतलब है कि 18 सितंबर देर रात सुंदरनगर बीएसएल नहर में दो वाहन गिर गए थे और जीप चालक ने अपनी गाड़ी से छलांग लगाकर जान बचाई थी। वहीं इस हादसे में तीन अन्य लोग उधमपुर,जम्मू निवासी तेल टैंकर चालक विक्रम सिंह व जीप में सवार मंडी जिला के थाची निवासी धमेंद्र कुमार और मणी राम लापता हो गए थे।घटना की अगली सुबह बीएसएल नहर कंट्रोल गेट पर बीबीएमबी सिक्योरिटी के जवानों ने नहर के गेट पर एक तेल का टेंकर देखा और स्थानीय प्रशासन,बीबीएमबी प्रशासन और पुलिस ने क्रेन की मदद से टैंकर को बाहर निकाल लिया था। इसके साथ-साथ दुर्घटना वाले स्थान से गोताखोरों व क्रेन की सहायता से जीप को भी बरामद कर लिया गया था।


लापता लोगों की तलाश के लिए स्थानीय प्रशासन द्वारा बीबीएमबी नंगल से आए हुए गोताखोरों की मदद से तीन दिन तक बीबीएमबी जलाशय में सर्च अभियान भी चलाया गया था। लेकिन लापता लोगों को ढूंढने में गोताखोरों को असफलता ही हाथ लगी। वहीं आज दिन तक इन लापता तीन लोगों के बारे में उनके परिजनों के मन में संशय ही बना हुआ है।

बीबीएमबी ने डाला फैंसिंग का मामला ठंडे बस्ते में

जीप व तेल के टैंकर के नहर में समा जाने वाले मामले ने बीबीएमबी प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़े कर दिए थे। पिछले काफी लंबे समय से हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के निर्देशों के बावजूद बीबीएमबी प्रशासन ने नहर किनारे फैंसिंग का मामला ठंडे बस्ते में डाल कर रखा हुआ है।वहीं हादसे के उपरांत बीबीएमबी प्रशासन ने मौके पर मात्र खानापूर्ति के नाम पर कमजोर फैंसिंग कर अपना पल्ला झाड़ लिया गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है