Covid-19 Update

1,98,313
मामले (हिमाचल)
1,89,522
मरीज ठीक हुए
3,368
मौत
29,439,989
मामले (भारत)
176,417,357
मामले (दुनिया)
×

सिविल अस्पताल सुंदरनगर में एक बेड पर दो-दो मरीज, लोग हो रहे परेशान

सिविल अस्पताल सुंदरनगर में एक बेड पर दो-दो मरीज, लोग हो रहे परेशान

- Advertisement -

सुंदरनगर। एक तरफ प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सुविधा के नाम पर बड़े-बड़े दावे करती है। तो दूसरी तरफ सीएम जयराम ठाकुर(CM Jai Ram Thakur) के गृह जिला सुंदरनगर के सिविल अस्पताल (Civil Hospital of Sundernagar) में अव्यवस्था का आलम नजर आ रहा है।


यह भी पढ़ें: जयराम से मिली एनपीएस कर्मचारी एसोसिएशन, मिला यह आश्वासन


यहां अस्पताल के महिला वार्ड से लेकर अन्य वार्ड में एक-एक बिस्तर पर दो-दो मरीजों का उपचार किया जा रहा है, जिससे महिलाओं में और रोगों के फैलने का खतरा बन गया है। अस्पताल प्रबंधन मरीजों को पर्याप्त सुविधा मुहैया करवाने में विफल नजर आया है। इतना ही नहीं चिकित्सक रोजाना नियमित चेकअप के दौरान भी एक बिस्तर पर दो-दो मरीजों का चेकअप करते नजर आ रहे हैं।

वहीं प्रदेश सरकार ने सिविल अस्पताल सुंदरनगर को 150 बिस्तर करने का भी दर्जा बढ़ा दिया है। लेकिन इस दिशा में भी अभी तक कोई भी सार्थक प्रयास होते नजर नहीं आए हैं। जबकि इस संदर्भ में अधिसूचना भी जारी हो चुकी है। लेकिन धरातल पर बिस्तरों की संख्या में बढ़ोतरी होती नजर नहीं आई है। इस बात का खामियाजा सीधे तौर पर एक बिस्तर पर दो-दो मरीजों (Patients) को लेट कर चुकता करना पड़ रहा है। अस्पताल में फैली हुई अव्यवस्था को लेकर मरीजों के साथ आए हुए तीमारदारों में रोष देखने को मिला है। मरीजों के साथ अस्पताल आए हुए तीमारदारों ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि जल्द से जल्द मरीजो को पर्याप्त सुविधा दें, ताकि वे जल्द स्वस्थ हो घर लौट सके।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है