Covid-19 Update

57,257
मामले (हिमाचल)
55,919
मरीज ठीक हुए
961
मौत
10,689,202
मामले (भारत)
100,486,817
मामले (दुनिया)

कोरोना अपडेटः Shimla और Kangra में जांचे सभी सैंपल नेगेटिव

कोरोना अपडेटः Shimla और Kangra में जांचे सभी सैंपल नेगेटिव

- Advertisement -

शिमला/धर्मशाला/ नाहन। कोरोना संदिग्ध दो लोगों के सैंपल आज आईजीएमसी (IGMC) में जांचे गए। दोनों सैंपल नेगेटिव आए हैं। इसमें एक आईजीएमसी और एक केएनएच से था। साथ ही कांगड़ा जिला का एक सैंपल आज डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज, अस्पताल टांडा में जांचा गया। रिपोर्ट नेगेटिव आई है। वहीं, डीसी सिरमौर डॉ. आरके परुथी ने जिला वासियों से अपील करते हुए कहा कि संपूर्ण देश व प्रदेश विश्व व्यापी महामारी कोरोना वायरस से जूझ रहा है ऐसे में हम सभी का दायित्व बनता है कि हम सभी एकजुट होकर इस महामारी के खिलाड़ लड़ाई लड़ने में सरकार का सहयोग करें।
उन्होंने कहा की कोरोना संक्रमित लोगों की सहायता के लिए जिला प्रशासन द्वारा HP Covid-19 Relief Fund का खाता नाहन के एचडीएफसी बैंक में खोला गया है। यदि कोई व्यक्ति या संस्था मुख्यमंत्री राहत कोष में राशि भेजना चाहता है तो वह एचडीएफसी बैंक के खाता संख्या 50100329177837 HDFC0001738 में इच्छा अनुसार दान कर सकता है। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों अनुसार कोरोना वायरस को लेकर जिला सिरमौर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा 1 अप्रैल से 7 अप्रैल 2020 तक एक्टिव केस फाइंडिंग (एसीएफ) अभियान चलाया जाएगा, जिसके अंतर्गत कोरोना संक्रमण की जांच को लेकर घर-घर जाकर सर्वे किया जाएगा।  इस आशय की जानकारी डीसी सिरमौर डॉ. आरके परुथी ने आज यहाँ आयोजित जिला टास्कफोर्स समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

उन्होंने बताया कि सर्वे की जिम्मेदारी आशा वर्कर्स व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दी जा रही है जिनके द्वारा 616 आशा गांवों में हरेक व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री व स्वास्थ्य की जांच कि जाएगी। सर्वे का कार्य सुबह 9 से शाम 4 बजे के बीच किया जाएगा और प्राप्त जानकारी को गूगल फार्म में भरा जाएगा। शाम साढ़े 4 बजे के बाद कोई फार्म नहीं भरा जाएगा। सर्वे टीम घर-घर जाकर परिवारों को कोरोना वायरस से बचने की जानकारी के साथ ही मास्क के सही तरीके से निष्पादन पर भी जागरूक करेगी और कोरोना वायरस के लक्षणों और सावधानियों से संबंधित जागरुकता सामग्री भी वितरित करेगी। उन्होंने बताया की सर्वे टीम की निगरानी खंड स्तर पर खंड चिकित्सा अधिकारी द्वारा की जाएगी और जिला स्तर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व जिला निगरानी अधिकारी द्वारा की जाएगी। हर रोज एक खंड स्तरीय निगरानी टीम कम से कम 10 घरों में जाकर यह सुनिश्चित करेगी कि सर्वे टीम द्वारा सर्वे किया गया है।

टीम द्वारा सर्वे किए गए घरों को सी-1, सी-2, सी-3 में वर्गीकृत किया जाएगा। पिछले 28 दिन में अंतरराष्ट्रीय यात्रा करने वाले व कोरोना पॉजीटिव लोगों के संपर्क में आने वाले लोग जिन्हे निगरानी में नहीं रखा गया है, उन्हें ए, बी,सी केटेगरी में पूरी जानकारी के साथ आवश्यक कार्यवाई के लिए रखा जाएगा। टीम द्वारा ऐसे सभी केसेस जिनमें कोरोना जैसे लक्षण पाया गया है लेकिन जिनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है और जो किसी कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में भी नहीं आए, की जानकारी प्राथमिक स्वास्थ्य संस्थान के अधिकारी को दी जाएगी। उन्होंने बताया कि सर्वे टीम के लिए ट्रिपल लेयर मास्क की व्यवस्था की जाएगी। डॉ. परूथी ने लोगों से अपील करते हुए कहा की वह इस सर्वे में सहयोग करें और सही जानकारी सर्वे टीम को मुहैया करवाएं, ताकि कोरोना वायरस पर शीघ्रता से नियंत्रण पाया जा सके।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है