Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

दो छात्रों ने दिया स्वचालित पानी टंकी क्लीनर का आईडिया, प्रणब मुखर्जी करेंगे सम्मानित

दो छात्रों ने दिया स्वचालित पानी टंकी क्लीनर का आईडिया, प्रणब मुखर्जी करेंगे सम्मानित

- Advertisement -

नई दिल्ली। बिहार के दो लाल ने राष्ट्रीय पटल पर बिहार का नाम रौशन किया है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा डा एपीजे अब्दुल कलाम आजाद इग्नाइट अवार्ड के लिए बिहार से दो छात्रों (Students) का चयन किया गया है। स्वचालित पानी टंकी क्लीनर (automatic water tank cleaner) के लिए नालंदा के सिद्धांत कुमार और स्लीप वॉकिंग डिटेक्टर एंड प्रिवेंटर के लिए मधुबनी के शिवम अमृतेश को चुना गया।

 


यह भी पढ़ें: ऊना: सड़क पार कर रहे अधेड़ को आज्ञात वाहन ने रौंदा, पीजीआई में मौत

 

बता दें कि नेशनल इनोवेशन अकादमी गांधीनगर पूरे देश से आनलाइन नए-नए अन्वेषी विचार मंगाती है। इस वर्ष 9 राज्यों के 21 छात्रों के 18 आइडिया का चयन किया गया है। जिसमें बिहार के दो छात्रों के प्रोजेक्ट को स्थान दी गई है। सभी चयनित छात्रों को 30 नवंबर को गांधीनगर में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी (Pranab Mukherjee) द्वारा सम्मानित किया जाएगा। शिवम मधुबनी के संस्कार भारती ग्लोबल स्कूल के 11वीं कक्षा का छात्र है तो वहीं सिद्धांत बिहारशरीफ के राणा बिगहा स्थित राजकीय उच्च विद्यालय के 9वीं कक्षा का छात्र है।

 

यह भी पढ़ें: विपक्ष की राजनीति का एक ही आधार है- बांटो, बांटो और बांटो और मलाई खाओ- पीएम मोदी

 

बेटे के इस सफलता से दोनों छात्रों के घर में ख़ुशी का माहौल है। शिवम की मां ने बताया कि वह अपने कमरे में अकसर किसी ने किसी चीज का मॉडल बनाता रहता है। हमेशा नए चीजों को खोजने को लेकर बातें करता है और वो भारत से बाहर जाकर नए आइडिया पर भी काम करना चाहता है। वहीं सिद्धांत के किसान पिता चन्द्रशेखर प्रसाद का कहना है कि ये आइडिया उसकी खुद की सोच है। प्रकाश को लेकर तरह-तरह के विचार इनके मन में आते रहे और उसने प्रोजेक्ट के जरिये जानकारियों को संकलित भी किया।

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है