Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,944,783
मामले (भारत)
179,349,385
मामले (दुनिया)
×

दो टूक : मैं Congress का प्राथमिक सदस्य नहीं, फिर पार्टी से कैसे निकाला

दो टूक : मैं Congress का प्राथमिक सदस्य नहीं, फिर पार्टी से कैसे निकाला

- Advertisement -

किन्नौर कांग्रेस जिला अध्यक्ष पर भड़के दौलत राम नेगी, कहां, माफी मांगे उमेश नेगी

भावानगर। हालांकि चुनावों से पहले बागियों और भितरघातियों ने बीजेपी-कांग्रेस की फुल टेंशन बढ़ाई थी, जो अभी भी जारी है। किन्नौर कांग्रेस में एक बड़ा रोचक सा किस्सा सामने आया है। हाल ही में जिला कांग्रेस अध्यक्ष उमेश नेगी ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते दौलत राम नेगी को कांग्रेस से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया, लेकिन दौलत नेगी ने चौकाने वाला खुलासा करते हुए कहा कि पह कांग्रेस पार्टी के सदस्य ही नहीं हैं, तो ऐसे में उनको पार्टी से कैसे निकाला जा सकता है। नेगी ने दो टूक कहा कि जब में कांग्रेस पार्टी का प्राथमिक सदस्य ही नहीं तो मुझे पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कैसे किया जा सकता है। मेरी विचार धारा कांग्रेस पार्टी से जुड़ी है, लेकिन में कांग्रेस का प्राथमिक सदस्य नहीं हूं। दौलत राम नेगी ने कहा कि कांग्रेस को जीवन भर वोट करने का तोहफा मुझे जिलाध्यक्ष ने 6 साल के लिए निष्कासित करके दिया है, जिससे मेरे मान सम्मान को गहरी ठेस पंहुची है।

जिला अध्यक्ष पर आरोप, पार्टी को कर रहे कमजोर

दौलत राम नेगी ने कहा कि 9 नवंबर को उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी को वोट दिया और 13 नवंबर को किन्नौर कांग्रेस अध्यक्ष उमेश नेगी ने कांग्रेस पार्टी से निष्कासित करने का फरमान जारी कर दिया है। उन्होंने कहा कि जिला कांग्रेस अध्यक्ष उमेश को किसी व्यक्ति को पार्टी से निष्कासित करने से पहले यह देखना चाहिए कि जिसे वे पार्टी से बाहर निकाल रहे हैं, वह प्राथमिक सदस्य है या नहीं। उन्होंने कहा कि उमेश नेगी ऐसे फरमान जारी कर कांग्रेस पार्टी को कमजोर करने में लगे हुए है। कांग्रेस अध्यक्ष उमेश नेगी के इस तरह के फरमान जारी करने से उनकी विचार नहीं बदलने वाली है। उन्होंने उमेश नेगी को पार्टी से निष्कासित किए जाने पर सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने को कहा है। दौलत राम नेगी का कहना है कि वह कांग्रेस पार्टी के प्राथमिक सदस्य नहीं है, ऐसे में किन्नौर कांग्रेस अध्यक्ष ने उन्हें पार्टी से बाहर निकालने का फरमान जारी कर अपमानित किया है।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है