Expand

स्टेडियम की सुरक्षा में अहम रोल निभा रही टायरा

स्टेडियम की सुरक्षा में अहम रोल निभा रही टायरा

- Advertisement -

गफूर खान/धर्मशाला। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम धर्मशाला में सुरक्षा का जिम्मा, गोल्ड मेडलिस्ट टायरा बखूबी निभा रही है। वह महज 16 माह की है लेकिन सीआईडी की टीम का अहम हिस्सा है। बम निरोधक दस्ते में उसकी ख़ास भूमिका है। बात हो रही है स्टेट सीआईडी के डॉग स्क्वाड की जो कि एयरपोर्ट, स्टेडियम, होटल द पवेलियन और अन्य सभी प्रमुख स्थानों पर जाकर सुरक्षा व्यवस्था जांच कर रहा है। इसी में यह 16 माह की टायरा भी इसमें शामिल है और इस दस्ते में एक अहम किरदार निभा रही है।

  • टायरा कॉकर स्पेनिल नस्ल की है जो कि दुनिया के टॉप 5 स्निफर डॉग्स में शुमार है। टायरा को पहले सीआईडी शिमला में लाया गया था लेकिन अब यह जिला कांगड़ा में सेवाएं दे रही है। उसने इसी साल अगस्त माह में जिला कांगड़ा सीआईडी में सेवाएं देना शुरू
    किया था।

criketटायरा ने जुलाई 2015 से जनवरी 2016 तक आईटीबीपी में प्रशिक्षण प्राप्त किया। उस प्रशिक्षण के दौरान टायरा ने जहां ओवरऑल बेस्ट ट्रॉफी जीती, वहीं उस प्रशिक्षण के परिणामों में टायरा ने गोल्ड मेडल भी जीता।

  • टायरा के सूंघने की शक्ति बेमिसाल है और वह किसी की जेब में माचिस की तीली होने पर भी भौंकने लग पड़ती है। सीआईडी स्टाफ के सदस्य भी टायरा के आने से काफी राहत महसूस कर रहे हैं।

मैच के सुरक्षा इंतजामों में जुटे सीआईडी स्टाफ के साथ टायरा भी दिनभर स्टेडियम परिसर में मुस्तैदी से घूम रही है और उसे देखने वाले उसकी समझदारी के कायल हो रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है