Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

राज्यसभा से पास हुआ UAPA संशोधन बिल, व्यक्ति को आतंकी घोषित करने पर तीखी बहस

राज्यसभा से पास हुआ UAPA संशोधन बिल, व्यक्ति को आतंकी घोषित करने पर तीखी बहस

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार इन दिनों संसद में धड़ाधड़ बिल और उनके संशोधनों को पेश कर रही है और उसे धड़ाधड़ पास भी कराए जा रही है। इसी सिलसिले में शुक्रवार को UAPA संशोधन बिल (UAPA Amendment Bill) लोकसभा के बाद राज्यसभा (Rajya Sabha) से भी पास हो गया। बिल के पक्ष में 147 और विपक्ष में 42 वोट पड़े। बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने का प्रस्ताव पहले ही गिर चुका था। अब कानून में संशोधन करने का रास्ता साफ हो गया है। इस बिल के अंतर्गत NIA को ज्यादा अधिकार देकर संगठन की तरह ही किसी व्यक्ति को भी आतंकी घोषित (Declare terrorists) करने जैसे अधिकार दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें:- न्नाव रेप मामला : सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता के चाचा को तिहाड़ जेल में किया शिफ्ट


चिदंबरम और दिग्विजय सिंह ने उठाए सवाल

UAPA बिल के मुताबिक जिस व्यक्ति को आतंकी घोषित किया जाएगा, उसकी संपत्ति जब्त करने और उसकी यात्राओं पर रोक लगाने जैसी कार्रवाई की जा सकेगी। इस बिल पर चर्चा के दौरान राज्यसभा में तीखी बहस देखने को मिली। कांग्रेस की तरफ से राज्यसभा सांसद पी। चिदंबरम और दिग्विजय सिंह ने व्यक्ति को आतंकी घोषित करने को लेकर सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए। चिदंबरम ने कहा कि संगठन को पहले से ही आतंकी घोषित किया जाता रहा है, ऐसे में व्यक्ति को आतंकी घोषित करने की जरूरत क्या है?


गृह मंत्री अमित शाह ने दिया जवाब

जिसका जवाब देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आंतकवाद के खिलाफ इस बिल पर सदन के अंदर एकमत होना चाहिए था तो देश में अच्छा संदेश जाता। उन्होंने कहा कि NIA ने ज्यादा मामले में सजा दिलाई है और यह दर करीब 91 फीसदी है जो कि दुनिया की किसी भी एजेंसी से ज्यादा है। किसी भी केस में चार्जशीट दाखिल न करने की वजह से कोई दोष मुक्त नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि संस्था व्यक्ति से ही बनती है और इसी वजह से अब व्यक्ति को भी आतंकी घोषित किया जाए ताकि वह व्यक्ति किसी और नाम से दूसरी संस्था न बना पाए।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है