Covid-19 Update

2,00,085
मामले (हिमाचल)
1,93,830
मरीज ठीक हुए
3,418
मौत
29,823,546
मामले (भारत)
178,657,875
मामले (दुनिया)
×

ऊना आदित्य पराशर हत्याकांडः मुख्य आरोपी अदालत से बरी

ऊना आदित्य पराशर हत्याकांडः मुख्य आरोपी अदालत से बरी

- Advertisement -

ऊना। जिला के बहुचर्चित आदित्य पराशर हत्याकांड के मुख्य आरोपी राम प्रकाश सिंह उर्फ मोनी को जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर ठाकुर की अदालत ने बरी कर दिया है। राम प्रकाश उर्फ मोनी की तरफ से केस की पैरवी करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता वीरेंद्र धर्माणी ने बताया कि 2 सितंबर 2014 की रात करीब साढ़े दस बजे ऊना-मैहतपुर हाई-वे स्थित रेलवे ब्रिज के नीचे दो गुटों में झगड़ा हुआ। जिसमें आदित्य पराशर नामक युवक की मौत हो गई थी। वहीं, दूसरे गुट से राम प्रकाश सिंह उर्फ मोनी को भी गंभीर चोटें आई थीं, मृतक के पिता भावक पराशर ने आरोप जड़ा कि राम प्रकाश सिंह उर्फ मोनी ने आदित्य का कत्ल किया है।

वहीं मोनी का आरोप था कि सड़क पर जाते हुए भावक, आदित्य और उनके 3-4 साथियों ने उसे सड़क पर रोक कर मारपीट की थी। दोनों शिकायतों के आधार पर क्रॉस केस दर्ज किया गया था। जबकि पुलिस ने मोनी के खिलाफ धारा 302 के तहत केस दर्ज किया था। पुलिस की ओर से अदालत में 30 गवाह भी पेश किए गए। अदालत में करीब सवा चार साल तक चले केस पर शनिवार को जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर ठाकुर ने फैसला सुनाते हुए आरोपी राम प्रकाश उर्फ मोनी को साक्ष्यों के आभाव में बरी कर दिया। वहीं, बचाव पक्ष के अधिवक्ता वीरेंद्र धर्माणी का तर्क था कि आदित्य पराशर के शरीर पर जो घाव था वह बरामद हथियार से संभव ही नहीं है। जबकि हथियार की बरामदगी भी संदेह के घेरे में है। इसके अलावा रात के वक्त आरोपी किस मकसद से मौके पर गया और उसका कत्ल करने का क्या मकसद था यह भी पुलिस अदालत में बता नहीं सकी।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है