Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

छापामारीः Baddi में चार झोलाछाप डॉक्टरों पर केस

छापामारीः Baddi में चार झोलाछाप डॉक्टरों पर केस

- Advertisement -

Unauthorized Doctors Clinic : बद्दी। औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में लोगों के जीवन से खिलवाड़ कर रहे झोला छाप डॉक्टरों पर स्थानीय प्रशासन ने कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। तहसीलदार देवराज भाटिया के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बद्दी में औचक निरीक्षण कर चार झोलाछाप क्लीनिकों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं। पकड़े गए सभी क्लीनिक फर्जी तरीके से चल रहे थे। इनके खिलाफ धारा 419 व 420 तथा ड्रग एंड कास्मेटिक एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।


स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बद्दी में किया औचक निरीक्षण

तहसीलदार देवराज भाटिया, बीएमओ डॉ. कुलदीप जसवाल, एडीए अनुज वर्मा के नेतृत्व में बददी पुलिस ने बद्दी साई मार्ग पर दबिश दी। इस दौरान उन्होंने लक्ष्मी कलीनिक कैलाश विहार बद्दी, गुप्ता क्लीनिक बद्दी, बंगाली डॉक्टर आरके विश्वास बिलांवाली और इसी गांव में एक फर्जी चिकित्सक को दबोचा। बिंलावाली में पकड़े गए फर्जी चिकित्सक के दुकान पर कोई बोर्ड नहीं था। टीम ने इसके खिलाफ ड्रग एंड कास्मेटिक एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। लक्ष्मी मेडिकल क्लीनिक में तैनात चिकित्सक के पास प्रेक्टिस करने के लिए कोई भी पात्रता नहीं थी। जबकि गुप्ता क्लीनिक में जो होम्योपैथिक की डिग्री थी वह वर्ष 1985 की थी उसके बाद उसे रिन्यू नहीं किया गया, उसे नोटिस जारी कर दिया है और उसकी सत्यता जांच के लिए संबधित विभाग को पत्र भेजा गया है। बंगाली चिकित्सक आरके विश्वास के पास भी कोई ऐसा दस्तावेज नहीं मिला, जिसके आधार पर वह प्रेक्टिस कर सके। इन दोनों के खिलाफ धारा 419 व 420 के तहत मामल दर्ज कर लिया है।


झोलाछाप चिकित्सकों की काफी शिकायतें

खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. कुलदीप सिंह जसवाल ने बताया कि लोगों के स्वास्थ्य के साथ किसी प्रकार के खिलवाड़ नहीं होने दिया जाएगा। बद्दी में झोलाछाप चिकित्सकों की काफी शिकायतें आ रही थी, जिसके तहत यह कार्रवाई अमल में लाई गई। उन्होंने बताया कि यह अभियान जारी रखा जाएगा तथा नियम के खिलाफ कार्य करने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि  एसडीएम नालागढ़ के आदेश पर यह टीम गठित की गई थी, जिसमें तहसीलदार को चेयरमैन, बीएमओ नालागढ़ व एडीए को सदस्य के रूप में शामिल किया गया था, वहीं आज की कार्रवाई में पुलिस की ओर से अतिरिक्त थाना प्रभारी बहादुर सिंह शामिल रहे। दूसरी ओर सीएमओ डॉ. आरके धरोच ने बताया कि पकड़े सभी चारों क्लीनिक संचालकों के खिलाफ एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह मामले पुलिस को सौंप दिए है और पुलिस इसकी गंभीरता से छानबीन कर रही है। उधर, एसपी बशेर सिंह ने मामले की पुष्टि की है।

Job का झांसा दे कर किया Gangrape, 7 गिरफ्तार

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है