मंडी में सड़क पर उतरे बेरोजगार शारीरिक शिक्षक, सरकार को दिया ये अल्टीमेटम 

बोले, चुनावों से पहले भरो शारीरिक शिक्षकों के दो हजार खाली पद

मंडी में सड़क पर उतरे बेरोजगार शारीरिक शिक्षक, सरकार को दिया ये अल्टीमेटम 

- Advertisement -

मंडी। बजट (Budget) में बेरोजगार शारीरिक शिक्षकों (Unemployed physical education teacher) के लिए कोई विशेष घोषणा न होने से खफा शारीरिक शिक्षक सड़कों पर उतर आए हैं और सरकार (govt) को चुनावों से पहले खाली चल रहे दो हजार पदों को भरने का अल्टीमेटम दिया है। रविवार को प्रदेश भर के प्रशिक्षित बेरोजगार शारीरिक शिक्षक मंडी (Mandi)  शहर की सड़कों पर उतरे और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें… 

प्रशिक्षित बेरोजगार शारीरिक शिक्षक संघ के प्रदेशाध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा कि सरकार बच्चों को नशे से दूर रखने और उन्हें खेलों की तरफ बढ़ाने के मात्र खोखले दावे कर रही है जबकि प्रदेश के हजारों स्कूलों में शारीरिक शिक्षकों के पद खाली चल रहे हैं। इन्होंने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर लोकसभा चुनावों से पहले शारीरिक शिक्षकों के दो हजार पदों को भरने की अधिसूचना जारी नहीं हुई तो फिर चुनावों में सरकार को इसका सबक सिखाया जाएगा।

ये भी पढ़ें : हिमाचल बजट में आउटसोर्स कर्मियों को क्या मिला, जानिए

वहीं, प्रशिक्षित बेरोजगार शारीरिक शिक्षकों ने सरकार (govt) पर स्कूली बच्चों के साथ भेदभाव करने का आरोप भी लगाया है। प्रशिक्षित बेरोजगार शारीरिक शिक्षक संदीप कुमार ने कहा कि सरकार ने 100 से कम संख्या वाले स्कूलों में शारीरिक शिक्षकों के पदों को न भरने का फैसला लिया है जिससे इस बात का पता चलता है कि सरकार इन स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को शारीरिक शिक्षा नहीं देना चाहती। इन्होंने सभी स्कूलों में शारीरिक शिक्षकों के पदों को सृजित करके उन्हें भरने की मांग उठाई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है