Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,624,419
मामले (भारत)
232,000,738
मामले (दुनिया)

बेरोजगार विशेष शिक्षक संघ ने Jai Ram का जताया आभार, साथ में विरोध भी किया- जानिए क्यों

बेरोजगार विशेष शिक्षक संघ ने Jai Ram का जताया आभार, साथ में विरोध भी किया- जानिए क्यों

- Advertisement -

सुंदरनगर। बेरोजगार विशेष शिक्षक संघ (Unemployed Special Teachers Union) का एक प्रतिनिधिमंडल सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) से मिला। संघ ने सीएम का इस काडर को लेकर पहली बार 52 पद निकालने का आभार जताया है। इन पदों को आउटसोर्स (Outsource) से भरने का विरोध भी किया और विशेष शिक्षक की नियुक्ति को लेकर सामान्य शिक्षकों की तर्ज पर नीति बनाने की मांग भी की। बेरोजगार विशेष शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश ठाकुर और वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र शर्मा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने सीएम को मांगपत्र सौंपा है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश, वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र शर्मा, सोम कृष्ण, अदित्य गौत्तम, पूर्ण चंद, सुरेश कुमार, बलदेव, करूण, विजय, मनोज और खेम राम ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में पहली बार में सीएम जयराम ठाकुर की सरकार ने हिमाचल के दिव्यांग बच्चों की शिक्षा के लिए विशेष शिक्षकों की भर्ती पर चिंतन जताया है।

यह भी पढ़ें: JBT टीचर ने स्कूल में 80 से 204 पहुंचाई बच्चों की संख्या, मिलेगा राज्य स्तरीय पुरस्कार

संघ ने कहा कि हिमाचल के सरकारी स्कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे दिव्यांग बच्चों (Children with Disabilities) की शिक्षा के लिए आउटसोर्स के माध्यम से शिक्षकों के पदों की भर्ती करने की तैयारी की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दिव्यांग बच्चों दिव्यांगजनों के हितैषी सरकार रही है। जो इस दिशा में पहल की है, लेकिन दिव्यांग बच्चों की शिक्षा जैसे संवेदनशील विषय को ठेकेदारी को सौंपने से किसी का भला होता नहीं दिखाई दे रहा है। इससे ना विशेष शिक्षक का भला होगा और ना ही दिव्यांग बच्चों का भला हो सकता है। संघ ने विधायक राकेश जमवाल से कहा कि सरकार प्रदेश के शिक्षा विभाग के तहत जेबीटी (JBT), टीजीटी (TGT) व पीजीटी (PGT) जैसी नीति के तहत स्कूलों दिव्यांग बच्चों की शिक्षा के लिए विशेष ट्रेड शिक्षक के पदों नियुक्ति करने की योजना बनाई है। विधायक राकेश जमवाल ने बेरोजगार विशेष शिक्षक संघ की मांगों को लेकर चर्चा की और उन्हें आश्वासन दिलाया कि सीएन से शीघ्र अति शीघ्र बैठकर इस बारे में चर्चा की जाएगी और नई शिक्षा नीति के तहत विशेष शिक्षकों को लेकर नई नीति बनाई जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

 


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है