×

बाली साहब! कर लें खुली बहस, तैयार हैं हम

बाली साहब! कर लें खुली बहस, तैयार हैं हम

- Advertisement -

कांगड़ा। प्रदेश की जनता और विकास से संबंधित किसी भी मुद्दे पर परिवहन मंत्री जीएस बाली की खुली बहस की चुनौती को हिमाचल परिवहन मजदूर संघ स्वीकार करता है। परिवहन मंत्री अपनी सहूलियत के हिसाब से स्थान व समय का चयन कर लें और इसके बाद खुली बहस के लिए संघ को सूचित कर दें। यह शब्द हिमाचल परिवहन मजदूर संघ के प्रदेशाध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर ने जारी ब्यान में कहे हैं।


संघ प्रदेशाध्यक्ष का कहना जब चाहे जहां चाहे बुला लें जीएस बाली
संघ के कुछ सवालों के जवाब साथ जरूर लेकर आएं मंत्री

शंकर सिंह ठाकुर का कहना है कि प्रदेश के परिवहन मंत्री हिमाचल पथ परिवहन निगम से संबंधित गत चार वर्षों का पूरा लेखा जोखा भी अपने साथ लाएं और पूरी तैयारी से खुली बहस करें। ठाकुर का कहना है कि संघ मंत्री की खुली बहस की चुनौती को स्वीकार करता है और इससे प्रदेश की जनता के सामने परिवहन मंत्री की कार्यप्रणाली बहुत अच्छे तरीके से जनता के बीच रखने के लिए मदद मिलेगी। इसलिए संघ किसी भी कीमत पर खुली बहस की चुनौती के अवसर को अपने हाथ से जाने नहीं देगा।

शंकर सिंह ठाकुर का कहना है कि परिवहन मंत्री संघ द्वारा अक्तूबर 2016 के दस हजार पोस्टरों में उठाए गए 12 सवालों का जवाब भी साथ लेकर आएं। क्योंकि इतनी लंबी अवधि बीत जाने के बाद भी परिवहन मंत्री आज दिन तक उन 12 सवालों का उत्तर नहीं दे पाए हैं। खुली बहस आयोजित करने से पहले मंत्री जनता को यह भी बता दें कि एचआरटीसी के मुख्य महाप्रबंधक को सेवानिवृत्ति से एक दिन पहले दिए गए सेवा विस्तार के लिए प्रदेश सरकार की अनुमति क्यों नहीं ली गई। इसके बारे में संघ ने सूचना का अधिकार अधिनियम के तहतभी सूचना मांगी थी जो कि निगम प्रबंधन ने आज दिन तक उपलब्ध नहीं करवाई है। ठाकुर का कहना है कि खुली बहस में आने से पहले मंत्री यह भी बताएं कि कौशल विकास भत्ते के नाम पर प्रदेश के हजारों बेरोजगारों को कब तक ठगा जाएगा। ठाकुर ने कहा कि यह बात भी सबके सामने आनी चाहिए कि एचआरटीसी में होने वाली जेटीओ, आरएम, वर्क मैनेजर और ट्रैफिक मैनेजर की भर्तियों के लिए प्रदेश सरकार की अनुमति क्यों नहीं ली गई। भर्तियों के रिजल्ट बनाने का ठेका आगरा की ओएमआर प्राइवेट लिमिटेड को किस आधार पर दिया गया जबकि प्रदेश में सरकार की अपनी भर्ती संस्थाएं उपलब्ध हैं। इसके अलावा सैंकड़ों प्रश्न हैं जो कि खुली बहस के दौरान परिवहन मंत्री से परिवहन मजदूर संघ मौके पर ही उठाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है