Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

अनुराग बोले, आमजन जागरूक होगा उसे तभी पता चलेगा कि निवेश कहां करना है कहां नहीं

अनुराग बोले, आमजन जागरूक होगा उसे तभी पता चलेगा कि निवेश कहां करना है कहां नहीं

- Advertisement -

धर्मशाला। भारतीय कंपनी सचिव संस्थान (ICSI) ने शुक्रवार को धर्मशाला में निवेशक जागरुकता कार्यक्रम (Investor awareness program) का आयोजन किया। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा कि जागरुकता अभियान का मुख्य उद्देश्य बचत और निवेश के बारे में जागरुकता पैदा करना है। ये अभियान निवेशकों और खाताधारकों के लिए किया गया जो कि बहुत महत्वपूर्ण है। लोग जागरूक होंगे तो उन्हें पता चलेगा कि फ्रॉडलेंड स्कीम क्या हैं और निवेश कहां करना है, कहां नहीं करना।

यह भी पढ़ें: Market Watch:जयराम सरकार के दावे के उलट Himachal में 70 नहीं 140 रुपए किलो पहुंचा प्याज


 

अनुराग ने कहा कि 50 हजार से ज्यादा छोटे कार्य्रकम देशभर में आयोजित किए गए। इनमें पहला राज्यस्तरीय कार्यक्रम ओडिशा के भुवनेश्वर में किया गया और दूसरा हिमाचल के धर्मशाला में किया गया है। इस दौरान इंवेस्टर्स के लिए बुकलेट का विमोचन भी किया गया। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम देशभर में किए जाएंगे ताकि फ्रॉडलेंड स्कीम (Fraudland scheme) में लोग न फंसे। लोगों को जागरूक किया जाएगा। देशभर में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment law) को लेकर मचे बवाल पर पूछे गए सवाल के जवाब में अनुराग ने कहा कि कुछ लोग देश से ज्यादा अपनी राजनीति पर ध्यान देते हैं। जिन लोगों के साथ अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बंगलादेश में अत्याचार किया गया और धर्मांतरण के लिए मजबूर किया गया हो वे लोग वर्षों से भारत में हैं तो क्या उनको नागरिकता नहीं मिलनी चाहिए।

मोदी सरकार के इस कानून का जितना स्वागत किया उतना जाए कम है। कुछ लोग विभाजन कर रहे हैं और लोगों को उकसा रहे हैं। अनुराग ने निवेदन किया कि इन नेताओं के भ्रम में न आए। CAA लोगों को नागरिकता देने का कानून है छीनने का नहीं। इसके खिलाफ दुष्प्रचार को बंद करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मीडिया ने लोगों को जागरूक करने में अहम भूमिका निभाई है। बजट में हिमाचल के हित में मुद्दे उठाने को लेकर पूछे सवाल के जवाब में अनुराग ने कहा कि हर राज्य के वित्त मंत्रियों और सीएम को निवेदन होता है कि वे अपने राज्य को लेकर सुझाव दें कि उनके राज्य के लिए मुख्य क्या किया जाए। लेकिन अब तो पीएम मोदी देशभर के लोगों से खुद सुझाव मांगते हैं। लोग जो सुझाव देते हैं और उनको बजट में शामिल किया जाएगा जो उचित पाए जाएंगे। इस बार भी लोगों का बजट बनाकर उसे पेश किया जाएगा।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है