Covid-19 Update

1,50,673
मामले (हिमाचल)
1,08,503
मरीज ठीक हुए
2118
मौत
24,046,809
मामले (भारत)
161,846,155
मामले (दुनिया)
×

कालाअंब को ESI Hospital की सौगात, 20 को केंद्रीय मंत्री रखेंगे आधारशिला

कालाअंब को ESI Hospital की सौगात, 20 को केंद्रीय मंत्री रखेंगे आधारशिला

- Advertisement -

नाहन। प्रदेश के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्र कालाअंब को ईएसआई अस्पताल ( ESI Hospital) की सौगात मिल गई है। 20 फरवरी को केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ईएसआई अस्पताल की आधारशिला रखेंगे। प्रदेश के बड़े औद्योगिक क्षेत्र ( Industrial area) की दशकों पुरानी यह मांग पूरी हो गई है। कालाअंब में ईएसआई अस्पताल को लेकर हुई बैठक में हिमाचल विधानसभा के अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल ( Dr. Rajiv Bindal) ने कहा कि यह मांग दशकों पुरानी है, जो आज तक पूरी नहीं हो पाई थी।



यह भी पढ़ें : ऊना में घटेगी बेरोजगारी, पंडोगा में अत्याधुनिक औद्योगिक क्षेत्र की तैयारी

इशारों-इशारों में बिंदल ने कांग्रेस ( Congress) पर निशाना साधते हुए कहा कि जो कांग्रेस 70 साल में नहीं कर पाई, प्रदेश सरकार ( State government) ने एक साल में कर दिखाया है। उन्होंने कहा कि 70 साल में कांग्रेस नाहन को सिर्फ 6 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दे पाई, जबकि प्रदेश की जय राम सरकार ने नाहन को एक साल में चार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और एक ईएसआई अस्पताल दिलवाया है।

ईएसआई अस्पताल खुलने से औद्योगिक क्षेत्र कालाअम्ब के करीब 30 हजार कामगारों को लाभ मिलेगा। उद्योगों में मजदूरों का ईएसआई और पीएफ लगातार काटा जाता है, मगर चिकित्सा सुविधा मजदूरों को नहीं मिल पाती है और उन्हें ईलाज के लिए पड़ोसी राज्य में जाना पड़ता है। बिंदल ने कहा कि शुरुआती चरण में यह ईएसआई अस्पताल 30 बिस्तर वाला होगा, जिसे बाद में 100 बिस्तर वाला Hospital बनाया जाएगा।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है