×

बुजुर्ग माता-पिता का नहीं रखा ख्याल तो संपत्ति से बाहर करेगी सरकार, प्रस्ताव तैयार

बुजुर्ग माता-पिता का नहीं रखा ख्याल तो संपत्ति से बाहर करेगी सरकार, प्रस्ताव तैयार

- Advertisement -

लखनऊ। कई विवादित कानून लाने के बाद यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार अब बुजुर्गों के पक्ष में एक कानून (Law) लाने जा रही है। बताया जा रहा है कि इस बाबत यूपी के सीएम योगी आदित्यानाथ (Yogi Adityanath) को प्रस्ताव भी सौंपा जा चुका है। जानकारी के अनुसार कानून में इस तरह के प्रावधान हैं कि यदि बच्चे अपने बुजुर्ग माता-पिता की सेवा नहीं करते हैं तो उनकी संपत्ति (Property) वापस ले ली जाएगी। इसके अलावा ऐसे बच्चे या लोग जो बुजुर्गों जो रहते तो बुजुर्गों (Elderly) के घर में लेकिन उनकी देखभाल नहीं करते हैं उन्हें भी घर से निकाला जा सकता है।


इस बाबत उत्तर प्रदेश स्टेट लॉ कमीशन (UPSLC) ने प्रस्ताव सीएम को प्रस्ताव सौंप दिया है। यूपीएसएलसी द्वारा सीएम को माता-पिता तथा वरिष्ठ नागरिकों के भरण पोषण एवं कल्याण कानून-2007 में संशोधन का प्रस्ताव दिया गया है। बताया जा रहा है कि कानून में प्रस्ताव (Proposal) दिया गया है कि यदि कोई बुजुर्ग शिकायत करता है कि उसके बच्चे उसकी देखभाल (Care) नहीं कर रहे तो मां-बाप की ओर से अपने बच्चे को दी गई संपत्ति (Property) की रजिस्ट्री को रद्द कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें – HRTC उत्तर प्रदेश के 27 सड़क मार्गों पर दौड़ाएगा अपनी बसें, MOU साइन

आपको बता दें कि कानून में संशोधन के प्रस्ताव लाने से पहले यूपीएसएलसी (UPSLC) ने एक अध्ययन अपनी रिपोर्ट में पाया था कि कई बार बच्चे ही बुजुर्ग माता-पिता को उनकी प्रॉपर्टी (Property) से बेदखल कर देते हैं या फिर बुजुर्गों को घर से निकालने के लिए उनके साथ अच्छे से व्यवहार नहीं करते। इसी के बाद अब यूपीएसएलसी द्वारा यह प्रस्ताव दिए जा रहा है। ऐसी परिस्थितियों को देखते हुए यूपीएसएलसी (UPSLC) का मानना है कि इस तरह प्रस्ताव लाना बेहद जरूरी है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है