Covid-19 Update

2,04,685
मामले (हिमाचल)
2,00,233
मरीज ठीक हुए
3,491
मौत
31,219,374
मामले (भारत)
192,489,942
मामले (दुनिया)
×

Sudhir बोले, ज्योतिष विज्ञान भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत

Sudhir बोले, ज्योतिष विज्ञान भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत

- Advertisement -

Urban Development Minister Sudhir Sharma : धर्मशाला। Urban Development Minister Sudhir Sharma ने धर्मशाला में हिन्दू एवं बौद्ध ज्योतिष सम्मेलन में भाग लिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के शिक्षण संस्थानों में संस्कृत और ज्योतिष विषयों के पठन-पाठन को बढ़ावा दे रही है। ज्योतिष विज्ञान भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत है तथा इसके प्रचार-प्रसार से भारत विश्व को ज्ञान का रास्ता दिखा सकता है। उन्होंने कहा कि एक विषय के रूप में ज्योतिष में ज्ञान अर्जन की असीम संभावनाएं हैं। इस अवसर पर श्री बाला जी अस्पताल के एमडी डॉ. राजेश शर्मा भी उपस्थित थे। वहीं, 49.25 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बरवाला के भवन का उद्घाटन करने के उपरांत उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के लिए निरन्तर प्रयासरत है, प्रदेश में शिक्षण संस्थानों के मूलभूत ढांचे को विकसित करने पर बल दिया गया है।

ये भी पढ़ें  : Hockey में बेहतरीन प्रदर्शन, Dr Rajesh ने दी शाबाशी

घरद्वार पर बेहतर शिक्षा के लिए प्रभावी कदम


सरकार ने राज्य के ग्रामीण एवं दूरवर्ती क्षेत्रों में बच्चों को घरद्वार पर बेहतर शिक्षा उपलब्ध करवाने के लिए प्रभावी कदम उठाए हैं। इस वित्त वर्ष में हिमाचल सरकार ने शिक्षा क्षेत्र के लिए 6204 करोड़ के बजट का प्रावधान किया है।  इसके उपरांत उन्होंने बनोरडू में 2.50 लाख रुपये की लागत से बनी शिव मंदिर की सराय तथा 2.75 लाख रुपये की लागत से बने महिला मंडल भवन का उद्घाटन भी किया। शहरी विकास मंत्री ने कहा कि 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में अव्वल आने वाले विद्यार्थियों को सरकार द्वारा राजीव गांधी डिजिटल विद्यार्थी योजना के तहत लैपटॉप व नेटबुक्स दिए जा रहे हैं।

योल कैंट बोर्ड को भंग करने को मिली सैद्धांतिक मंजूरी

शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार ने धर्मशाला के योल कैंट बोर्ड को भंग करने को लेकर सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है। कैंट बोर्ड के तहत आने वाला सिविल क्षेत्र धर्मशाला नगर निगम में सम्मिलित होगा। सुधीर शर्मा ने कहा कि योल कैंट बोर्ड भारत का पहला कैंट बोर्ड है, जिसे जनता की सुविधा एवं मांग के मद्देनजर भंग करने की स्वीकृति दी गई है।

सुधीर शर्मा ने मेला मैदान बनोरडू के सौन्दर्यकरण के लिए 2 लाख रुपये, त्रिलोचन महादेव मंदिर बनोरडू के लंगर भवन के लिए 1.50 लाख, बनोरडू नाले पर पुलिया के निर्माण के लिए 1.50 लाख, बनोरडू को टीका बणी और योल से जोड़ने के लिए जीप योग्य मार्ग के लिए 2 लाख रुपये देने की घोषणा की।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है