Expand

आतंकियों के पास थी आर्मी कैंप के ऑफिसर्स मेस तक की जानकारी

आतंकियों के पास थी आर्मी कैंप के ऑफिसर्स मेस तक की जानकारी

- Advertisement -

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में हुए आतंकियों के आत्मघाती हमले के बाद एक बड़ा खुलासा हुआ है। हमलावर आतंकियों के पास पश्तो भाषा में पूरे मिशन की लिखित योजना के होने की बात सामने आई है। मिशन प्लान में उरी आर्मी कैंप का नक्शा बना हुआ था। नक्शे में कैंप के मेडिकल यूनिट, प्रशासनिक भवन और ऑफिसर्स मेस तक की जानकारी दर्ज होने की बात  कही जा रही है। जानकारी के मुताबिक इस हमले में प्रतिबंधित आतंकवादी समूह सिपाह-ए-साहबा पाकिस्तान (एसएसपी) का हाथ हो सकता है।  यह दस्ता सीधे जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर के आदेशों पर काम करता है और खुद को ‘गार्जियंस ऑफ द प्रोफेट’ के नाम से पुकारे जाने पर यकीन करता है।uri2

पर्रिकर पीएम को सौंपेंगे रिपोर्ट
उरी आतंकी हमले के बाद सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने के बाद जम्मू-कश्मीर से लौटे रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। माना जा रहा है कि उरी हमले के बारे में वह सेना की तरफ से इकट्ठा की गई शुरुआत रिपोर्ट की जानकारी प्रधानमंत्री मोदी को देंगे। इसके बाद सरकार आगे की रणनीति बनाएंगी। इससे पहले  रविवार को रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर श्रीनगर पहुंचे थे। उन्होंने हमले में जख्मी जवानों से की मुलाकात। और सेना को हमले के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह सुहाग और सेना के अन्य शीर्ष अधिकारियों ने उन्हें आतंकवादी हमले का ब्योरा दिया।

attackएनआईए करेगी आतंकी हमले की जांच
आतंकी हमले की जांच एनआईए करेगी और आज ही एनआईए की टीम श्रीनगर पहुंच रही है। इससे पहले प्रधानमंत्री और गृहमंत्री दोनों ने ही इस हमले की निंदा की है। पीएम ने देशवासियों को भरोसा दिलाया है कि हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। वहीं राजनाथ सिंह ने साफ शब्दों में कहा कि पाकिस्तान एक आतंकवादी देश है और उसे अंतराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग कर देना चाहिए। वहीं अमेरिका ने भी इस हमले की निंदा की है और कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ़ वे भारत के साथ खड़े हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है