Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

श्री बालाजी अस्पताल कांगड़ा में अब पेशाब से संबंधित सभी बीमारियों का होगा इलाज

श्री बालाजी अस्पताल कांगड़ा में अब पेशाब से संबंधित सभी बीमारियों का होगा इलाज

- Advertisement -

कांगड़ा। लोगों को बेहतर सुविधाएं देने की कड़ी में श्री बालाजी अस्पताल कांगड़ा ने एक कदम और आगे बढ़ाया है। अब श्री बालाजी अस्पताल में पेशाब से संबंधित सभी बीमारियों (Urologist) के इलाज सुविधा भी मरीजों को मिलेगी। एमसीएच (यूरोलॉजी) पीजीआई एंड राम मनोहर लोहिया अस्पताल व गोल्ड मेडलिस्ट डॉ. विशाल गर्ग श्री बालाजी अस्पताल में सेवाएं देंगे।

अब मिलेंगी यह सुविधाएं

पत्थरी (किडनी, पेशाब की नली व पेशाब की थैली) का इलाज व ऑपरेशन अस्पताल में होंगे। यह ऑपरेशन Endourologically, दूरबीन व लेंजर तकनीक से होंगे। इसके अलावा किडनी के कैंसर का इलाज व किडनी में किसी प्रकार की रूकावट के लिए Pyeloplasty द्वारा इलाज होगा। गदूद व गदूद के कैंसर के इलाज की सुविधा भी मिलेगी। पेशाब की थैली के कैंसर का दूरबीन द्वारा टीयूआरबीटी तकनीक से इलाज होगा। पेशाब का नया रास्ता बनाना (Urethroplasty), किडनी फेलयर मरीजों के लिए डायलाइसिस व AV Fistula सुविधा भी मुहैया करवाई जाएगी। पुरुष नपुसंकता व महिलाओं में पेशाब के लीक होने के इलाज के साथ बच्चों का रात को सोते समय पेशाब निकलने की बीमारी का भी इलाज उपलब्ध होगा। पेशाब की इंफेक्शन के लिए Urethral Dilatation की सुविधा भी उपलब्ध होगी।


मीडिया से बातचीत में श्री बालाजी अस्पताल के सीएमडी डॉ. राजेश शर्मा ने बताया कि कांगड़ावासियों को यूरोलॉजिस्ट की सुविधा के लिए अब बाहर जाने की आवश्यकता नहीं है। श्री बालाजी अस्पताल में डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल से प्रशिक्षित गोल्ड मेडलिस्ट डॉ. विशाल गर्ग अपनी सेवाएं निरंतर रूप से देंगे। उन्होंने बताया कि अस्पताल में लैब, अल्ट्रासाउंड (Ultrasound), आईवीपी (IVP), सीटी स्कैन और एमआरआई डेक्सा स्कैन, पेशाब की धार की जांच व एक्स रे की सुविधा 24 घंटे उपलब्ध रहेगी।

डॉ. विशाल गर्ग ने बताया कि प्रदूषित वातावरण व खान पान की वजह से कैंसर के मामले बढ़ रहे हैं। उन्होंने कांगड़ावासियों से आग्रह किया है कि 40 साल की उम्र के बाद गदूद के कैंसर का टेस्ट (PSA) जरूर करवाएं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है