Covid-19 Update

59,014
मामले (हिमाचल)
57,428
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,190,651
मामले (भारत)
116,428,617
मामले (दुनिया)

सावधान ! खाने में इस्तेमाल किया यूज्ड तेल तो होगा भारी नुकसान

सावधान ! खाने में इस्तेमाल किया यूज्ड तेल तो होगा भारी नुकसान

- Advertisement -

हमारे देश में खाने को लेकर काफी वैरायटी मौजूद है और अलग-अलग राज्यों के पकवान भी अलग-अलग होते हैं लेकिन एक चीज जो कॉमन हैं वह है तेल और मसाले।तेल तो हर डिश में अच्छे से यूज किया जाता है। चाहे डीप फ्राई करना हो या तड़का लगाना हो तेल तो यूज होगा ही। तेल यूज करना तो ठीक है लेकिन अगर तेल को बार-बार यूज किया जाए तो यह आपकी सेहत के लिए बिल्कुल ठीक नहीं है इससे सेहत को बहुत नुकसान हो सकता है। आज हम आपको इसी बारे में जानकारी देने जा रहे हैं कि एक बार यूज किए हुए तेल को दोबारा यूज करने से आपको क्या नुकसान हो सकता है और इसे अगर यूज करना भी है ते किस तरह करें …

आपने अगर तेल में एक बार कोई चीज़ फ्राइ कर दी गई है और बार-बार उसी तेल में बाकी चीजें भी बना रहे हैं तो इससे फ्री रैडिकल्स जन्म ले लेते हैं जिससे सूजन और जलन के अलावा और कई बीमारियां हो जाती हैं। ये फ्री रैडिकल्स बॉडी की स्वस्थ कोशिकाओं (सेल्स) से खुद को जोड़ लेते हैं। फ्री रैडिकल्स कई बार कैंसर को जन्म दे सकते हैं। इसके अलावा तेल को बार-बार इस्तेमाल करने से अथरोस्कॉलरोसिस हो सकता है, जिसमें शरीर में बैड कलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है और धमनियां ब्लॉक हो जाती हैं।

एक ही तेल को बार-बार इस्तेमाल करने से एसिडिटी, दिल संबंधी बीमारियां, ऐल्टशाइमर्ज़ डिज़ीज़, पार्किंसन्स डिज़ीज और गले में जलन हो सकती है।

डीप फ्राइ के लिए एक बार इस्तेमाल किए गए तेल को दोबारा इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन कुछ मामलों में ऐसा किया जा सकता है। हालांकि उन मामलों में यह इस बात पर निर्भर करता है कि किस प्रकार का तेल इस्तेमाल किया जा रहा है। जैसे क्या इसे हल्का फ्राई करने के लिए इस्तेमाल किया गया या फिर डीप फ्राइ के लिए? इस तेल में खाने के किस आइटम को फ्राइ किया गया?

कुकिंग के बाद बचे तेल को ठंडा होने देना चाहिए और उसके बाद उसे एक एयरटाइट डब्बे में छानकर भर दें। इससे उस तेल में रहे फूड पार्टिकल्स भी निकल जाएंगे। जब भी आप तेल को दोबारा इस्तेमाल करें तो देख लें कि उसका कलर और थिकनेस कैसी है। अगर तेल डार्क कलर और पहले से अधिक गाढ़ा व ग्रीस जैसा है तो उसे फेंक दें। इसके अलावा अगर तेल गरम करने पर पहले के मुकाबले अधिक धुंआ छोड़े तो उसे फेंक देना ही बेहतर है।

सभी तेल एक दूसरे से काफी अलग होते हैं। कुछ में स्मोकिंग पॉइंट ज़्यादा होता है यानी डीप फ्राइंग के दौरान कुछ में धुंआ ज़्यादा निकलता है तो कुछ में कम। कुछ तेल ऐसे होते हैं जिन्हें गरम करने पर बिल्कुल भी धुंआ नहीं निकलता जैसे कि सनफ्लार ऑइल, सोयाबीन का तेल, मूंगफली का तेल आदि। ऐसे तेल जिनका स्मोकिंग पॉइंट ज्यादा न हो उन्हें फ्राइ करने के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है