Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

Corona: इस बार स्थगित हो सकती है कांवड़ यात्रा, केदारनाथ धाम भी पड़ा वीरान

Corona: इस बार स्थगित हो सकती है कांवड़ यात्रा, केदारनाथ धाम भी पड़ा वीरान

- Advertisement -

देहरादून। कोरोना माहमारी (Covid-19) का असर देवभूमि उत्तराखंड पर भी पड़ा है। इस बार कोरोना के चलते जहां कांवड़ यात्रा पर संशय बना हुआ है वहीं, बाबा केदार का धाम भी वीरान पड़ा है। जहां पहले केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) में हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते थे वहीं, अब मुश्किल से इक्का-दुक्का लोग ही यहां कांवड़ यात्रा के लिए पहुंच रहे हैं। उधर, मेरठ की कांवड़ समितियों ने भी यात्रा नहीं निकाले जाने संबधी आला अधिकारियों को पत्र लिखा है। माना जा रहा है कि कांवड़ यात्रा को लेकर उत्तराखंड प्रशासन (Uttarakhand Administration) शनिवार को फैसला ले सकता है।

राज्यों ने प्रशासन को भेजी रिपोर्ट, फैसला बाकी
बता दें, इस बार कांवड़ यात्रा पांच जुलाई से शुरू होने के बाद 17 जुलाई को खत्म होनी है। इस यात्रा में उत्तराखंड (Uttrakhand), यूपी (UP), दिल्ली (Delhi), राजस्थान (Rajasthan) और हरियाणा (Haryana) के कांवड़ उपस्थित रहते हैं। यात्रा से पश्चिमी यूपी के जिलों में सबसे ज्यादा आवागमन प्रभावित होता है। 10 दिन पहले दिल्ली से हरिद्वार तक हाईवे वनवे कर दिया जाता है। इस यात्रा के संबंध में मेरठ कांवड़ समितियों के पदाधिकारी हरिद्वार से कांवड़ नहीं लाने के लिए लोगों से बात चीत कर रहे हैं। कई लोग व धर्मगुरु भी यात्रा पर रोक लगाने की मांग कर रहे हैं। यात्रा को लेकर उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली, हिमाचल (Himachal Pradesh) के अधिकारियों की डेढ़ माह पहले होने वाली बैठक अभी तक नहीं हुई है। वहीं, कुछ राज्यों ने यात्रा को लेकर उत्तराखंड प्रशासन को रिपोर्ट भेजी है जिस पर अभी फैसला होना बाकी है।


11 जून से शुरू हुई केदारनाथ यात्रा, 23 लोगों ने ही किए दर्शन
बात करें केदारनाथ यात्रा (Kedarnath Yatra) की तो इस बार यात्रा पर आने वाले लोगों की संख्या शून्य के बराबर है। गौर हो, केदारनाथ धाम 11 जून से स्थानीय लोगों के लिए खोल दिया गया था लेकिन, यात्रा शुरू हुए अभी हो गए हैं और इतने दिन में केवल 23 लोग ही दर्शन के लिए पहुंचे हैं। कोरोना (Corona) के खौफ के चलते भी लोग केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) नहीं जा रहे हैं। यात्रा में कम लोगों के आने का सीधा असर व्यापारियों पर पड़ा है। यहां 12 जून से अब तक 186 लोग पहुंचे हैं। इनमें 20 तीर्थ पुरोहित, 23 तीर्थ यात्री, 16 विभागीय कर्मचारी, 15 होटल व्यवसायी, 6 साधु, 2 चरवाहे और 100 मजदूर शामिल हैं। राज्य में कोरोना के कुल आंकड़े की बात करें तो यहां कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 2177 है जिसमें से एक्टिव केस 718 है। जबकि 1433 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं।  राज्य में 26 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है