Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,723,560
मामले (भारत)
199,307,256
मामले (दुनिया)
×

#Uttarakhand चमोली आपदा : लापता लोगों के परिजनों ने किया प्रदर्शन, एनटीपीसी के GM को घेरा

ऋषि गंगा नदी में आए सैलाब के बाद से टनल के अंदर फंसे लोगों का नहीं मिला सुराग

#Uttarakhand चमोली आपदा : लापता लोगों के परिजनों ने किया प्रदर्शन, एनटीपीसी के GM को घेरा

- Advertisement -

चमोली। उत्तराखंड के चमोली (Uttarakhand Chamoli) में हुए जलप्रलय को छह दिन बीत चुके हैं। ऋषि गंगा नदी (Rishi Ganga River) में आए सैलाब के बाद से टनल (Tunnel) के अंदर फंसे लोगों की भी कोई खोज खबर नहीं है। ऐसे में चमोली आपदा (Chamoli Disaster) के प्रभावितों के परिजनों ने घटना स्थल पर जमकर हंगामा (Protest) किया। प्रदर्शन कर रहे लोगों का आरोप था आपदा के छह दिन बीत जाने के बाद भी गुमशुदा लोगों (Missing Peoples) को नहीं खोजा गया है। गुस्साए परिजनों ने एनटीपीसी (NTPC) और प्रशासन के खिलाफ नाराजगी जाहीर की और इस दौरान एनटीपीसी के जीएम (NTPC GM) का भी घेराव किया।

यह भी पढ़ें: #Uttarakhand एकाएक बढ़ा अलकनंदा नदी का जलस्तर, तपोवन टनल में रुका Rescue Operation

गौरतलब रहे कि चमोली की ऋषिगंगा आपदा में अभी तक करीब 37 शव बरामद किए जा चुके हैं। बताया जा रहा है कि आपदा के बाद से लापता लोगों की संख्या करीब 167 है। साथ ही ऋषिगंगा के मुहाने पर एक बार फिर झील बन चुकी है, जिससे बाढ़ जैसे हालातों का अंदेशा जताया जा रहा है। उधर, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि हमें झील की जानकारी है।  करीब 400 मीटर एरिया में झील बनी है। टीमें मौके पर स्थिति का जायजा लेने के लिए गई हुई हैं।

इसके अलावा बैराज साइड में आपदा के बाद दबे हुए शवों को निकालने का काम अभी भी शुरू नहीं हुआ है। इसे लेकर भी लापता लोगों के परिजनों में आक्रोश है। तपोवन की रहने वाली एक महिला और अन्य लोगों ने बताया कि इस त्रासदी के बाद से उनके परिजनों का कोई सुराग नहीं लगा है। लोगों का कहना है कि बैराज साइड में अभी तक शवों को निकालने का काम भी शुरू नहीं हो पाया है। लोगों का कहना है कि बैराज साइड में कई जगहों पर खून के निशान भी देखे गए हैं, लेकिन यहां पर शवों को निकालने का काम ही शुरू नहीं किया गया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है