Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

#Uttarakhand जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के हाथी की करंट लगने से मौत

खेतों के लिए लगाई गई बिजली की तार से हुआ हादसा

#Uttarakhand जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के हाथी की करंट लगने से मौत

- Advertisement -

रामनगर। उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क (Jim Corbett National Park) की गौजानी में एक हाथी की मौत ( Elephant Death) हो गई। हाथ की मौत करंट (Electricity current) लगने से हुई है। ये हादसा जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क की कॉर्बेट की बिजरानी (Bijrani) सीमा के पास हुआ है। हाथी की मौत खेतों के लिए लगाई गई बिजली की तार से करंट लगने से हुई है। ऐसा अंदेशा जताया जा रहा है कि हाथी सूंड से बिजली के तार को खींचने की कोशिश कर रहा था, जिस कारण उसे करंट लगा और उसकी मौत हो गई।


यह भी पढ़ें: #Nepal ने भारतीयों के लिए खोली सीमाएं, कोरोना के कारण 23 मार्च बंद किए गए थे #Border

बताया जा रहा है कि किसान ने अपने खेत में सुरक्षा के लिए बिजली का बल्ब लगाया था। इसी के लिए उसने अपने खेतों तक बिजली की तार भी पहुंचाई थी। इसी तार से हाथी को करंट लगा था। ऐसा अनुमान जताया जा रहा है कि ये वही हाथी था जिसे शनिवार शाम के समय वन कर्मचारी और अन्य लोग चोरपानी से जंगल की ओर भगाने की कोशिश कर रहे थे, क्योंकि हाथी की मौत जिम कॉर्बेट की बिजरानी सीमा से महज 50 मीटर की दूरी पर हुई है।


गौरतलब हो कि इससे पहले सात जनवरी की कालाढूंगी मार्ग पर भाखड़ा पुल के पास मौत हो गई थी। दरअसल भाखड़ा पुल के पास एक कार और बाघ की जोरदार टक्कर हो गई थी। इसके बाद बाघ की मौत हो गई थी। वन विभाग की टीम ने मौके से ही एक कार भी बरामद की थी। क्षतिग्रस्त कार के हिस्से में बाघ के बाल चिपके हुए थे। बाघ की उम्र करीब 12 साल थी और उसका वजन करीब 100 किलोग्राम था। बाघ के मुंह पर चोट के निशान भी थे।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है