Covid-19 Update

1,51,597
मामले (हिमाचल)
1,11,621
मरीज ठीक हुए
2156
मौत
24,046,809
मामले (भारत)
161,846,155
मामले (दुनिया)
×

दूसरे देशों की जेलों में बंद हैं 7139 भारतीय, सबसे ज्यादा सऊदी अरब में

दूसरे देशों की जेलों में बंद हैं 7139 भारतीय, सबसे ज्यादा सऊदी अरब में

- Advertisement -

नई दिल्ली। विदेशों (Foreign) में भारत के सात हजार से ज्यादा नागरिक कैदी (Indian Prisoners) हैं। सबसे ज्यादा भारतीय नागरिक सऊदी अरब (Saudi Arab) की जेलों में कैद हैं। यह खुलासा गुरुवार को राज्यसभा (Rajya Sabha) में विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन (V Muraleedharan) के लिखित जवाब देने के बाद हुआ। यह आंकड़ा 31 दिसंबर 2020 तक का है। खाड़ी देश (Gulf Countries) सऊदी अरब में काफी ज्यादा तादाद में भारतीय नागरिक रोजगार (Job) के सिलसिले में जाते हैं और सबसे ज्यादा भारतीय नागरिक भी सऊदी अरब की ही जेलों (Prison) में बंद हैं।



केंद्र सरकार ने गुरुवार को बताया कि विदेशी देशों की जेलों में सात हजार 139 भारतीय कैदी बनाए गए हैं। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक इनमें से कुछ कैदी विचाराधीन भी हैं। विदेश राज्य मंत्री ने आज राज्यसभा में एक प्रश्न का लिखित उत्तर दिया, जिसमें यह जानकारी उन्होंने दी। विदेश राज्य मंत्री ने बताया कि सऊदी अरब की जेलों में सबसे ज्यादा 1 हजार 599 भारतीय कैदी बंद हैं। इसके बाद संयुक्त अरब अमीरात 898, नेपाल में 886 भारतीय कैदी जेलों में बंद हैं।


यह भी पढ़ें: Sirmaur : सजायाफ्ता कैदी सहित नाहन जेल के वार्डन को कैद, क्या है मामला- पढ़ें

विदेश मंत्रालय के पास उपलब्ध सूचना के मुताबिक 31 दिसंबर 2020 तक दूसरे देशों की जेलों में कुल 7 हजार 139 भारतीय कैदी कैद हैं। इसके साथ ही विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने बताया कि कुछ देशों में निजता के कानून काफी कड़े हैं। इस वजह से स्थानीय प्रशासन तब तक कैदियों की जानकारी साझा नहीं करता जब तक जेल में बंद किया गया व्यक्ति खुलासे की सहमति ना दे। उन्होंने कहा कि कई देश अपनी जेलों में बंद विदेशी नागरिकों के बारे में डिटेल इन्फोर्मेशन नहीं देते हैं। विदेश राज्य मंत्री ने बताया कि मलेशिया की जेलों में 548 भारतीय कैदी तो कुवैत की जेलों में 536 भारतीय कैदी हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है