Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर के निकट न लगाएं ये पौधे

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर के निकट न लगाएं ये पौधे

- Advertisement -

वास्तुशास्त्र में ऐसा कई बातें बताई गई है जिसे करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है जैसे घर में किस दिशा में क्या रखना चाहिए। घर की रसोई से लेकर घर के कमरे तक किस दिशा में होने चाहिए इस सब का ध्यान रखना जरूरी है। वास्तु के अनुसार घर के आसपास मौजूद पेड़ भी आपके लिए अशुभ हो सकते हैं।

  • घर के ईशान और पूर्व दिशा में अधिक ऊंचे पेड़ नहीं होने चाहिए। ध्यान रखें कि आंगन और घर के आसपास भी ऐसे पेड़ न हों।
  • घर के आसपास आधा सूखा या आधा जला हुआ पेड़ भी अशुभ माना जाता है। वास्तु में कहा गया है कि इससे घर में नकारात्मकता और बुरी हवाएं प्रवेश करती हैं।
  • वास्तुशास्त्र में कहा गया है कि रेशम, ताड़, कपास, और आंवले का पेड़ पास होने से घर में कलह की स्थिति पैदा होती है।

वास्तु के अनुसार कहा जाता है कि घर में अगर ये काम होते हुए देखें तो तो इनका उपाय करना चाहिए। वास्तु के मुताबिक घर में ये संकेत सही नहीं माने जाते इसलिए समय रहते इन्हें देखकर तुरंत सतर्क हो जाना चाहिए और इनके उपाय करने चाहिए।


  • अचानक घर में काले चूहों की संख्या बढ़ जाना इस बात की ओर संकेत करता है कि कोई नुकसान हो सकता है।
  • अगर के दरवाजों, अल्मारियों, खिड़की में दीमक लग गई है या फिर मधुमक्खियों ने छत्ता बना लिया है तो इसे भी शुभ नहीं माना जाता। इससे घर के मालिक को परेशानी उठानी पड़ती है।
  • कहा जाता है कि घर में अगर काली चींटियां आ जाएं तो घर में बरकत आती है, लेकिन अगर घर में लाल चींटियां आ जाएं तो कहा जाता है कि यह किसी हानि का सूचक है इसलिए ऐसा होने पर तुरंत सतर्क हो जाना चाहिए।
  • वास्तु में उत्तर दिशा को बहुत ही शुभ माना गया है। कहा जाता है कि अगर घर की उत्तर दिशा साफ-सुथरी हो तो घर में धन का आगमन होता है, लेकिन अगर घर की उत्तर दिशा खाली होती है तो इसे सही नहीं माना जाता।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है