Covid-19 Update

2,05,391
मामले (हिमाचल)
2,01,014
मरीज ठीक हुए
3,503
मौत
31,484,605
मामले (भारत)
196,043,557
मामले (दुनिया)
×

जंजैहली में शूट हुई फिल्म ‘वनरक्षक’, हिंदी और हिमाचली में होगी रिलीज

जंजैहली में शूट हुई फिल्म ‘वनरक्षक’, हिंदी और हिमाचली में होगी रिलीज

- Advertisement -

जंजैहली। ग्रीन हाउस गैसों के बेतहाशा उत्सर्जन से पूरी दुनिया का वातावरण आज इतना जहरीला हो चुका है कि आम आदमी साफ़ सुथरी हवा में सांस लेना ही एकदम भूल चुका है। ऐसे में लोगों को वनों के संरक्षण के बारे में बताने वाली एक फिल्म जल्दी ही रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म में वनों को बचाने के लिए वन रक्षकों (Forest guards) के सहयोग को बताया गया है। फिल्म की शूटिंग हिमाचल (Janjehli Himachal Pradesh) में हुई है। फिल्म की खासियत ये है कि इसमें हिमाचली और हिंदी दोनों तरह के कलाकार हैं और इसे हिंदी और हिमाचली दोनों भाषाओं में रिलीज किया जाएगा।


इस फ़िल्म के म्यूजिक डायरेक्टर हिमाचल के ‘बालकृष्ण शर्मा’ हैं। साथ ही, इस फ़िल्म में शुभा मुदगल, हंसराज रघुवंशी, कुलदीप शर्मा, शक्ति सिंह सरीक़े के गायक अपनी आवाज़ देंगे। फिल्म वन रक्षक इमानदार वन संरक्षकों के जीवन पर आधारित है। निर्देशक पवन कुमार शर्मा की यह फ़िल्म एक स्थानीय फारेस्ट गार्ड चिरंजीलाल चौहान के जीवन पर बनी एक यथार्थवादी और सच्ची घटना पर बनी है। जो बचपन से ही अपनी धरती मां से प्रेम करता है। इसी का पालन करने में उसकी जान भी चली जाती है। इस फ़िल्म में ग्लोबल वार्मिंग और प्रकृति संरक्षण की बात पुरज़ोर तरीके से की गई है। लेखक जितेंद्र गुप्ता ने इस फ़िल्म में प्राकृतिक संरक्षण और विकास को बड़े अच्छे तरीके से जोड़ा है।

वैसे समय में ऐसी फ़िल्म का बनना अपने आप में ही इसकी महत्ता को साबित करता है। फ़िल्म की पटकथा (script) लिखते हुए लेखक जीतेन्द्र गुप्ता ने जलवायु परिवर्तन से होने वाले खतरों की तरफ इशारा करते हुए पर्यावरण और वन संरक्षण को बहुत ही सटीक तरीके से विकास के साथ भी जोड़ा है । जे एम के एंटरटेनमेंट (JMK Entertainment) के बैनर तले निर्मित इस फ़िल्म को इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल और नेशनल फ़िल्म अवार्ड के लिए भेजा जाएगा। इस फ़िल्म के मुख्य किरदार धीरेंद्र ठाकुर और फ़लक खान हैं। धीरेन्द्र चिरंजी की भूमिका में हैं और फलक ने आंचल के किरदार को बड़ी मेहनत और इमानदारी से निभाया है।

पूरी फिल्म की कहानी चिरंजीलाल चौहान नामक वन रक्षक के इर्द-गिर्द घूमती है जो जंगलों को सुरक्षित रखने की बात कहता है। बिहार के मधुबनी जिले के रहनेवाले धीरेन्द्र ठाकुर का अभिनय के क्षेत्र में यह पहली फ़िल्म है। इससे पहले धीरेन्द्र ठाकुर दिल्ली में थिएटर से जुड़ें रहें हैं। वन रक्षक फ़िल्म एक फारेस्ट गार्ड की आपबीती है जो बचपन से ही अपनी धरती माँ से प्रेम करता है। इस फ़िल्म में ग्लोबल वार्मिंग और प्रकृति संरक्षण की बात पुरज़ोर तरीके से की गई है। लेखक जितेंद्र गुप्ता ने इस फ़िल्म में प्राकृतिक संरक्षण और विकास को बड़े अच्छे तरीके से जोड़ा है। आज के समय में जब पर्यावरण पर पूरी दुनिया में बहस छिड़ी है, 17 वर्षीय ‘ग्रेटा थनबर्ग’ पर्यावरण संरक्षण के लिए सबसे अपील कर रही है, वैसे समय में ऐसी फ़िल्म का बनना अपने आप में ही इसकी महत्ता को साबित करता है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है