Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

आवश्यक है वास्तु शांति

आवश्यक है वास्तु शांति

- Advertisement -

Vastu: वास्तु का अर्थ मनुष्यों और देवताओं का निवास होता है। वास्तु शास्त्र ब्रह्मांड के तत्वों द्वारा दिए गए लाभ मिलने में मदद करता है। ये बुनियादी तत्व आकाश (आकाश), पृथ्वी (धरती), पानी (जल), अग्नि (आग) और वायु (पवन) के रूप में हैं। वास्तु पूजा में प्रवेश द्वार पर तोरण लगाना चाहिए और एक शुभ वृक्ष का रोपण किया जाना चाहिए। उसके बाद पुन: गृह प्रवेश किया जाता है और फिर अग्नि और घर की शुद्धि की जाती है। घर में पूर्ण समर्पण और भक्ति के साथ प्रार्थना करके हवन किया जाता है। हवन विशेष रूप से घर की दिशा के अनुसार किया जाना चाहिए। इस प्रकार वास्तु देवता को पूजा जाता है जिससे उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है।

Vastu: वास्तु शान्ति का प्राथमिक उद्देश्य

  • किसी भी भूमि, संरचना, और आंतरिक व्यवस्था के दोष या वास्तु दोषों को दूर करने के लिए।
  • घर का निर्माण करते समय प्रकृति, अन्य प्राणियों को किसी भी प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष नुकसान की माफी मांगने के लिए, वहां निवास करने वालों के समग्र सुख में खलल न पड़ने के लिए।
  • वास्तु पुरुष को प्राकृतिक विपदाओं से, घर और रहने वालों की रक्षा करने के लिए अनुरोध करने के लिए।
  • रहने वालों के स्वास्थ्य तथा घर में धन और समृद्धि लाने के लिए उनके आशीर्वाद की विनती करने के लिए।
  • घर का समुचित उपयोग करने के लिए किया जाता है।
  • वास्तु शांति पूजा सभी धन और स्वास्थ्य समस्याओं के उन्मूलन से किसी व्यक्ति के जीवन में अपार लाभ प्रदान करती है।
  • व्यक्ति के जीवन में सभी बुरी आत्माओं का प्रभाव हटाती है। ग्रहों की गलत स्थिति के कारण होनेवाले हानिकारक प्रभाव निकाल देती है।
  • वास्तुदेव प्रसन्न होकर किसी व्यक्ति के जीवन में फैले हुए अंधकार को हटाते हैं तथा जीवन को समृद्धि और खुशियों से भर देते हैं।

खुशहाल जीवन के लिए जरूरी है वास्तु शास्त्र

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है