Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,622
मामले (भारत)
196,707,763
मामले (दुनिया)
×

जिंगजिंगबार में भूस्खलन, मनाली-लेह मार्ग पर वाहनों के थमे पहिये; बीआरओ मार्ग बहाली में जुटा

रसद लेकर जा रहे सेना के वाहन भी फंसे, बीआरओ शाम तक कर सकता है मार्ग बहाल

जिंगजिंगबार में भूस्खलन, मनाली-लेह मार्ग पर वाहनों के थमे पहिये; बीआरओ मार्ग बहाली में जुटा

- Advertisement -

केलांग। हिमाचल में सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण मनाली लेह मार्ग भूस्खलन के चलते बंद हो गया है। यह भूस्खलन केलंग से 45 किलोमीटर दूर जिंगजिंगबार (Zing Zing Bar) में हुआ है। भूस्खलन (landslide) होने के चलते वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। हालांकि बीआरओ सुबह से ही सड़क बहाली में जुटा हुआ है। बीआरओ के अनुसार शाम तक यह मार्ग वाहनों के लिए बहाल कर दिया जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार भूस्खलन देर रात को हुआ था,जिसके बाद से मनाली से लेह जाने वाले वाहनों को लाहुल स्पीति (Lahaul Spiti) पुलिस ने दारचा में ही रोक दिया, जबकि लेह व सरचू से आ रहे वाहन भी जिंगजिंगबार के पास फंस गए हैं। भूस्खलन से रसद लेकर लेह जा रहे सेना के वाहन भी फंसे हैं।

यह भी पढ़ें: ग्रांफू-काजा हाईवे 505 पर फिर भूस्खलन, बंद हुआ मार्ग, कई वाहन फंसे

बता दें कि इन दिनों सेना के वाहन हर रोज रसद लेकर इस मार्ग से गुजर रहे हैं। बताया जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों से मनाली-लेह मार्ग (Manali-Leh road) पर सफर जोखिम भरा हो गया है। बढ़ती गर्मी के चलते पटसेउ सहित आधा दर्जन नालों में पानी का बहाव बढ़ गया है। गुरुवार को भी पटसेउ नाले में बाढ़ आने से मार्ग काफी समय तक बंद रहा, जबकि आज जिंगजिंगबार में भुस्‍खलन होने से मार्ग बंद है। एसपी लाहुल स्पीति मानव वर्मा (SP Lahul Spiti Manav Verma) ने बताया कि जिंगजिंगबार के पास भारी भूस्खलन हुआ है जिससे मार्ग बंद है। उन्होंने लेह मार्ग पर सफर करने वालों से आग्रह किया कि सफर करते समय गाड़ी में खाने पीने का सामान साथ रखें। उन्होंने कहा कि बरसात को देखते हुए समस्त जानकारी लेने के बाद ही सफर पर निकलें। बीआरओ (BRO) कमांडर कर्नल उमा शंकर ने बताया कि जिंगजिंगबार के पास भूस्खलन होने से मार्ग बंद है जिसे आज शाम तक बहाल किए जाने की उम्मीद है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है