Covid-19 Update

59,197
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,244,092
मामले (भारत)
117,591,889
मामले (दुनिया)

13 साल की उम्र में आतंकियों ने बनाया बंधक, तीन बार खरीदा-बेचा, रोज होता था यौन उत्पीड़न

13 साल की उम्र में आतंकियों ने बनाया बंधक, तीन बार खरीदा-बेचा, रोज होता था यौन उत्पीड़न

- Advertisement -

नई दिल्ली। आतंकी संगठन आईएसआईएस का नाम सुनकर लोगों की रूह कांप जाती है ऐसी जगह पर रहकर उन आतंकियों की यातनाएं सहना कितना कष्टदायक होगा ये कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। ऐसी कुछ पीड़िताओं ने जब दुनिया के सामने अपनी आपबीती सुनाई तो सुनने वाले भी कांप गए। बचाए गए यजिदियों के दफ्तर के निदेशक हुसैन अल कादी ने स्थानीय एनजीओ के साथ मिलकर आईएसआईएस (ISIS) के चंगुल से बचाई गई कुछ पीड़िताओं की एक प्रेस कांफ्रेंस करवाई जिसमें उन्होंने मुंबई में अपनी दर्द भरी दास्तां दुनिया के सामने रखी।

एक पीड़िता ने बताया कि महज 13 साल की उम्र में 3 अगस्त, 2014 को आतंकी संगठन आईएसआईएस ने उसे बंधक बना लिया था। उसके बाद उसकी जिंदगी किसी नरक से कम नहीं थी। करीब एक साल तक उसके साथ बहुत ही अमानवीय व्यवहार (Inhuman behavior) हुआ। तीन बार आतंकियों ने उसकी खरीद-फरोख्त की। रोजाना उसके साथ यौन उत्पीड़न होता था। अपहरण के बाद उसे ऐसे घाव मिले हैं जिन्हें वह कभी नहीं भूल पाएगी।

क्षेत्रीय कुर्द सरकार के प्रतिनिधियों और आईएर्सआएस की यातनाओं के शिकार हुए पीड़ितों ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की है कि संघर्ष वाले क्षेत्र से यजिदी और कुर्द लोगों को निकालकर उनके पुनर्वास करने में मदद करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सिंजर से अमेरिकी सेनाओं की वापसी एक गलत निर्णय है। इससे क्षेत्र में आईएसआईएस का आतंक बढ़ेगा खासतौर से यजिदी जैसे धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है