Covid-19 Update

1,98,583
मामले (हिमाचल)
1,91,025
मरीज ठीक हुए
3,379
मौत
29,510,410
मामले (भारत)
176,764,688
मामले (दुनिया)
×

युवक पिटाई मामलाः कटघरे में पुलिस, एसपी ऊना से मिले पीड़ित के परिजन

युवक पिटाई मामलाः कटघरे में पुलिस, एसपी ऊना से मिले पीड़ित के परिजन

- Advertisement -

ऊना। निर्मम पिटाई के वीडियो वायरल (Video viral) मामले में नया मोड़ आ गया है। अपने परिजनों के साथ आज ऊना (Una) पहुंचे पीड़ित युवक और उसके परिजनों ने चौकाने वाला खुलासा किया है। इस खुलासे के बाद पुलिस ही कटघरे में खड़ी दिख रही है। पीड़ित युवक और परिजनों ने मीडिया के सामने खुलासा किया कि पिटाई के बाद आरोपी युवक पीड़ित को पुलिस चौकी ऊना (Police chowki Una) ले गए थे। पुलिस को झूठी कहानी सुनाकर राजीनाम करवाया था। पीड़ित युवक के परिजनों ने एसपी (SP) से मुलाकात कर मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है। उधर, पुलिस ने आरोपी युवकों की धरपकड़ को तीन टीमें गठित की हैं, जोकि आरोपियों की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही हैं।
बता दें कि ऊना जिला के हरोली थाना क्षेत्र के तहत एक पोल्ट्री फॉर्म में निर्मम पिटाई का शिकार हुआ पीड़ित युवक सोमवार को अपने परिजनों के साथ पुलिस अधीक्षक से मिलने ऊना पहुंचा। जहां पर पीड़ित युवक ने पुलिस और मीडिया को आपबीती सुनाई। दरअसल कुछ दिन पहले ऊना में एक युवक की बेरहमी से पिटाई किए जाने के चार वीडियो वायरल हुए थे। इस मामले को मीडिया (Media) द्वारा उठाए जाने के बाद जहां पुलिस हरकत में आई। वहीं, पीड़ित युवक के घर तक भी यह मामला पहुंच गया। अपने लाडले के साथ हुई निर्मम मारपीट (Beating) की खबर मिलते ही परिजन आज पीड़ित युवक को लेकर ऊना पहुंचे और न्याय की मांग उठाई। पीड़ित ने बताया कीं 26 अप्रैल को उसके एक दोस्त अनमोल ने उसे गगरेट में कैमरा लेकर आने की बात कही। पीड़ित ने बताया कि वह अनमोल के कहे अनुसार कैमरा लेने के लिए उक्त स्थान पर पहुंचा तो पाया कि करीब दो दर्जन से अधिक युवक (Youth) मौजूद थे और उसे पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद युवकों ने मुझे गाड़ी में अगवा कर हरोली (Haroli) के एक अज्ञात पॉल्ट्री फार्म (Poultry farm) ले गए, जहां मुझे रॉड व लात घूंसों से जमकर पिटाई की। युवकों ने पिटाई का वीडियो भी बनाया। उसके बाद आरोपी युवक पीड़ित को अपने साथ लेकर पुलिस चौकी ऊना पहुंच गए, जहां युवकों ने पुलिस को पीड़ित के साथ कैमरे के लेन देन की बात कही और पुलिस के समक्ष राजीनामा कर लिया।
अब सवाल यह है कि मामला गगरेट से शुरू हुआ, जोकि गगरेट थाना के तहत आता है, वहीं, युवक से मारपीट पंडोगा चौकी क्षेत्र में हुई तो आरोपी युवक गगरेट और पंडोगा की बजाय ऊना सिटी चौकी में ही क्यों गए। वहीं, ऊना सिटी चौकी में पीड़ित युवक से पूछताछ या तथ्यों को जाने बिना ही पुलिस ने राजीनामा क्यों लिखवाया। ऐसे कई सवाल है जो ऊना पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे है। पीड़ित ने बताया कि मारपीट के बाद आरोपी युवकों ने मामले की शिकायत करने पर मुझे और परिजनों को जान से मारने की धमकी दी थी।

यह भी पढ़ें:  बुरे फंसे काजल- पंफलेट मामले में होगी कार्रवाई, डीसी कांगड़ा करेंगे जांच

वहीं, पीड़ित के पिता का कहना है कि मारपीट की घटना के बाद उनका बेटा डिप्रेशन में चला गया था। उनका बेटा डरा, सहमा हुआ है, जिसके चलते उनका बेटा आत्महत्या (Suicide) करने तक का कदम उठा सकता था। पीड़ित युवक के गांव के प्रधान नवजेंद्र सिंह ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं। युवक की पंचायत के प्रधान ने पुलिस अधिकारियों से मामले की निष्पक्ष जांच की मांग उठाई है। एएसपी ऊना विनोद धीमान ने कहा कि पुलिस द्वारा इस मामले को लेकर तीन टीमों का गठन किया गया है। आरोपियों को दबोचने के लिए दबिश दी जा रही है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है