Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

गवर्नमेंट स्कूल के हेडमास्टर-मास्टर मांग रहे थे रिश्वत, विजिलेंस ने रंगे हाथों पकड़ा

गवर्नमेंट स्कूल के हेडमास्टर-मास्टर मांग रहे थे रिश्वत, विजिलेंस ने रंगे हाथों पकड़ा

- Advertisement -

ए सिंह/हमीरपुर। गवर्नमेंट हाई स्कूल (Government High School) भरठियान के हेडमास्टर व मास्टर रिश्वत (Bribe) लेते हुए रंगे हाथों पकड़े गए हैं। ये दोनों स्कूल फर्नीचर के एवज में सप्लायर से रिश्वत की मांग कर रहे थे, इनमें हेडमास्टर 21 हजार व मास्टर 85,00 रुपए की डिमांड कर रहे थे।

यह भी पढ़ें:  दुष्कर्म के बाद स्कूल में छुट्टी, टीचर्स-स्टूडेंटस के बयान हुए दर्ज


क्या है मामला

राजकीय उच्च पाठशाला भरठियान के हेड मास्टर राज कुमार ने हमीरपुर की ही एक फ़र्नीचर फ़र्म से मई माह में स्कूल के लिए क़रीब ढाई लाख रुपए का फ़र्नीचर लिया। इसमें से कुछ राशि का भुगतान फ़र्म को 5 जून तक कर दिया गया। शेष राशि के लिए फ़र्म के मालिक को स्कूल के कई चक्कर काटने पड़े और इस बीच कमीशन की बात सामने आई। फ़र्म के मालिक ने अपनी पेमेंट देने की बात कही तो आनाकानी होती रही। बाद में क़रीब 30 हज़ार कमीशन देकर शेष राशि का भुगतान करने की बात हुई। फ़र्म के मालिक ने सारी बात विजिलेंस को बताई। इस बीच मास्टरो व फ़र्म के बीच मोबाईल की रिकोर्डिंग भी होती रही।

कैसे फंसे जाल में मास्टर

मंगलवार को विजिलेंस की टीम डीएसपी बीडी भाटिया के नेतृत्व में शिकायतकर्ता के साथ अपने अभियान के लिए भरठियान पहुंच गई। शिकायतकर्ता ने फ़ोन कर राज कुमार व सुशील को स्कूल के पीछे बुलाया और विजिलेंस द्वारा तैयार रुपए के पैक्ट इन मास्टरों के हाथों में थमा दिए। शिकायतकर्ता वाश रूम जाने का बहाना कर साईड में हो गया व टीम को ओके का इशारा कर गया। विजिलेंस की टीम ने हेडमास्टर राजकुमार को स्कूल ऑफ़िस में हेड मास्टर की कुर्सी पर 21 हज़ार रुपए गिनते तथा सुशील कुमार को 8500 रुपए गिनते रंगे हाथों पकड़ लिया।

यह भी पढ़ें:  धर्मशाला की डिफॉल्टर कंपनी अब शिमला को बनाएगी स्मार्ट!

इस बारे में बताते हुए डीएसपी ( विजिलेंस ) बी डी भाटिया ने कहा कि भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत स्कूल अध्यापकों राज कुमार व सुशील कुमार को रंगे हाथों रिश्वत लेते गिरफ़्तार कर लिया है। उन्होंने कहा कि एफआईआर 5/2019 के तहत मामला दर्ज हो चुका है। आरोपीशीघ्र ही कोर्ट में पेश किए जायेंगे।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है