Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

लाठीचार्ज मामलाः विक्रमादित्य व मनीष ठाकुर ने मांगी न्यायिक जांच

लाठीचार्ज मामलाः विक्रमादित्य व मनीष ठाकुर ने मांगी न्यायिक जांच

- Advertisement -

शिमला। विधानसभा का घेराव करने जा रहे युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज के मामले पर युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह व मौजूदा अध्यक्ष मनीष ठाकुर ने जयराम सरकार पर निशाना साधा है। विक्रमादित्य सिंह व मनीष ठाकुर ने मामले की न्यायिक जांच की मांग करते हुए दोषी पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई मांगी है। युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि प्रदेश सरकार युवाओं की आवाज को बर्बरता से नहीं दबा सकती है।
लोकतंत्र में अपनी आवाज उठाने का संवैधानिक अधिकार देश के हर नागरिक को है। सरकार इस अधिकार से किसी को वंचित नहीं कर सकती है। विक्रमदित्य सिंह ने कहा है कि युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस कार्रवाई पूरी तरह से उकसाने वाली थी। यही कारण रहा कि शांतिपूर्ण चल रहा प्रदर्शन उग्र हो गया।  वहीं, युवा कांग्रेस के अध्यक्ष मनीष ठाकुर ने शिमला में मीडिया से बातचीत करते हुए जयराम सरकार पर विपक्ष और युवा शक्ति का पुलिस की ताकत से डंडे के बल पर दमन का आरोप लगाया है।  कहा कि सरकार तानाशाह बन गई है। लोगों के लोकतांत्रिक अधिकारों को पुलिस की ताकत से कुचला जा रहा है। मनीष ठाकुर ने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस, सरकार व प्रशासन के इशारे पर विपक्ष के लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन कर रही है और तानाशाही और गुंडागर्दी पर उतर आई है।  उन्होंने कहा कि इस घटना को लेकर सोमवार से जिला स्तर पर युवा कांग्रेस प्रदर्शन करेगी और राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर सरकार के कारनामों से अवगत करवाया जाएगा।

लोकतंत्र में तानाशाही बर्दाश्त नहीं: ओपी ठाकुर

नाहन। प्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव ओपी ठाकुर ने कहा कि पुलिस द्वारा लाठीचार्ज सरकार के इशारों पर हुआ है। ओपी ने कहा कि शिमला में युवा कांग्रेस के प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम में प्रदेश भर से लगभग 5 हजार कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। युवा कांग्रेस का यह कार्यक्रम शांतिपूर्ण था और विभिन्न मुद्दों व मांगों को लेकर सीएम को ज्ञापन सौंपना था। लेकिन पुलिस ने बेरिकेट्स लगाकर युवा कांग्रेस को सीएम से मिलने से रोका और युवा कार्यकर्ताओं पर लाठियां भांजी गई। इससे 30 कार्यकर्ता घायल हुए हैं। बेटी बचाओ की बात करने वाली बीजेपी सरकार ने प्रदेश की बेटियों पर भी लाठीचार्ज करवाया, ये दुर्भाग्यपूर्ण है।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है