Covid-19 Update

57,189
मामले (हिमाचल)
55,796
मरीज ठीक हुए
960
मौत
10,655,435
मामले (भारत)
99,333,754
मामले (दुनिया)

Dhumal माफिया के सबसे बड़े DON: विक्रमादित्य

Dhumal माफिया के सबसे बड़े DON: विक्रमादित्य

- Advertisement -

 

कुल्लू। कौशल विकास निगम के निदेशक एवं युवा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि प्रदेश में यदि माफिया राज के डॉन हैं तो वो हैं प्रेम कुमार धूमल। उन्होंने कहा कि धूमल ने बाहरी लोगों के हाथों में हिमाचल बेच दिया है और क्रिकेट एसोसिएशन की जमीन अपने बेटे के नाम की है।  धूमल ने अपने कार्यकाल में निजी कॉलेज खोलकर हजारों करोड़ रूपए डकार लिए। इसे माफियाराज नहीं कहेंगे तो और क्या कहेंगे।

  • धूमल परिवार ने बाहरी लोगों को बेचा हिमाचल प्रदेश
  • क्रिकेट एसोसिऐशन की हजारों करोड़ों की जमीन की बेटे के नाम

विक्रमादित्य कसोल में कौशल विकास निगम के रोजगार कार्यक्रम में भाग लेने आए थे। उन्होंने कहा कि जो खुद माफिया राज के डॉन रहे हों और जिन्होंने हिमाचल को बेचा हो वे ही लोग आज यदि यह कहे कि प्रदेश में भ्रष्टाचार और माफियाराज की सरकार चली है तो यह यहां की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा है। ऐसे माफिया डॉन हमें आज सीख देंगे कि हिमाचल में भ्रष्टाचार है। प्रदेश की जनता के साथ इससे भद्दा मजाक और क्या हो सकता है। उन्होंने कहा कि धूमल ने क्रिकेट एसोसिएशन की आड़ में अपने बेटे को करोड़ों की जमीन दे दी, जिसका आज न्यायालय में मामला चला हुआ है, वह यह दर्शाता है कि उन्होंने प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया है।

युकां अध्यक्ष ने कहा कि धूमल सरकार के कार्यकाल में धारा 118 में ढील देकर विभिन्न स्थानों पर निजी कॉलेजों को खोलकर हजारों करोड़ों धूमल ने डकारे हैं यह दर्शाता है कि वो माफियाराज था।

विक्रमादित्य ने कहा कि आज चाहे धूमल हो या भाजपा के अन्य नेता वे आज बौखलाहट में है क्योंकि प्रदेश सरकार के चार साल पूरे हो गए हैं और आज जनता के बीच में कोई भी एंटीइंकमबेंसी  सरकार के खिलाफ नहीं है।

उन्होंने कहा कि आज जो रैलियां भाजपा निकाल रही है, वह सिर्फ राजनीतिक स्टंट है जिसे वे जनता के बीच में खेल रहे हैं।  आज बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा है और इस समस्या को हल करने के लिए मजबूत कदम उठाने होंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान मेंकोई भी सरकार हर परिवार को सरकारी नौकरी नहीं दे पाएगी। सरकार ने सिर्फ सरकारी सेक्टरों में इन चार वर्षों में 41 हजार युवाओं को नौकरी दी है और इसके अलावा सरकार प्रयास कर रही है कि सरकारी नौकरियों के अलावा युवाओं को प्रशिक्षित करके स्वरोजगार की ओर ले जाया जा सके।

युकां अध्यक्ष ने कहा कि कौशल विकास निगम की जो स्थापना हुई है उसका पायलट प्रोजेक्ट अभी प्रदेश में चला हुआ है। इस प्रोजेक्ट के तहत विभिन्न ट्रेड में युवाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है और निगम ने देश की नामी कंपनियों के साथ एमओयू साइन किया है जिस भी युवा को प्रशिक्षण दिया जाएगा उनकी 100 प्रतिशत प्लेसमैंट होगी।

उन्होंने कहा कि आजपुलिस इतनी सर्तक हो गई है कि जगह-जगह पर चरस पकड़ी जा रही है और सेक्सरैकेटों का भंडाफोड़ किया जा रहा है। इसका मतलब यह नहीं है कि प्रदेश में माफियाराज चला हुआ है बल्कि इसका मतलब यह है कि प्रदेश में इस समय ऐसे लोगों के खिलाफ सरकार सख्त है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है