Covid-19 Update

59,014
मामले (हिमाचल)
57,428
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,190,651
मामले (भारत)
116,428,617
मामले (दुनिया)

पलटवार : Vikrmaditya की बढ़ती लोकप्रियता से घबराए BJP नेता

पलटवार : Vikrmaditya की बढ़ती लोकप्रियता से घबराए  BJP नेता

- Advertisement -

शिमला। राज्य उद्योग विकास निगम के उपाध्यक्ष अतुल शर्मा, एचपीएमसी अध्यक्ष महेंद्र स्तान, उपेंद्र कांत मिश्रा, विवेक कुमार युवा कांग्रेस महासचिव यदुपति ठाकुर ने एक बयान में बीजेपी के उस बयान की कड़ी आलोचना की है जिसमें उन्होंने प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह को कौशल विकास निगम का निदेशक बनाने पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा है कि विक्रमादित्य सिंह प्रदेश में युवाओं का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और प्रदेश सरकार को युवाओं की आधुनिक सोच से अवगत भी करवा रहे हैं।

  • सरकार को युवाओं की आधुनिक सोच से अवगत करवा रहे विक्रमादित्य
  • युवाओं के हित में कौशल विकास निगम के निदेशक के रूप में किया बेहतर काम

विक्रमादित्य सिंह के प्रयासों से प्रदेश के कई जिलों में कौशल विकास निगम के माध्यम से रोजगार मेलों का आयोजन तक किया गया और उन्हें निजी क्षेत्र में नौकरियां उपलब्ध करवाई गईं। उन्होंने कहा कि विक्रमादित्य सिंह युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करने के जो प्रयास कर रहे हैं उससे ऐसा लगता है कि बीजेपी के नेता परेशान हो चले हैं।

बीजेपी की सोच युवाओं के प्रति नकारात्मक रही है और यही वजह है कि आज भी प्रदेश में युवाओं का एक बड़ा वर्ग कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़ा है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी विक्रमादित्य की बढ़ती लोकप्रियता से घबरा गई है और निराशा में बेबुनियाद बयानबाजी कर रही है। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के उक्त नेताओं ने बीजेपी के उन नेताओं की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाया है जो बेरोजगारी भत्ते के नाम पर प्रदेश के युवाओं को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश सरकार ने पहली बार प्रदेश में कौशल विकास निगम की स्थापना कर प्रदेश के पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार प्रशिक्षण की व्यवस्था कर उन्हें अपने पैरों पर खड़े होने के लिए प्रोत्साहित किया है। उन्होंने कहा है कि कौशल विकास के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे युवाओं को प्रदेश सरकार द्वारा एक हजार रुपए तथा दिव्यांगों के लिए 1500 रुपए मासिक प्रोत्साहन राशि प्रदान की जा रही है। इसके अंतर्गत पांच वर्षों के लिए 500 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है और अभी तक 1.60 लाख युवाओं को कौशल विकास भत्ता दिया गया है। कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि सीएम वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में प्रदेश सरकार के चार वर्षों का कार्यकाल शानदार रहा है और बीजेपी के पास प्रदेश सरकार के खिलाफ कोई बड़ा राजनैतिक मुद्दा नहीं है।  बीजेपी  के नेता प्रदेश सरकार के खिलाफ अनाश-शनाप बयानबाजी कर सुर्खियां बटोरने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि इस वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों में प्रदेश में सीएम वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में फिर से कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी और बीजेपी मुंह देखती रह जाएगी। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है