×

गरीबी के कारण मंदिर में करवाई बेटे की शादी, गांव वालों ने रख दी ये अजीब शर्त

गरीबी के कारण मंदिर में करवाई बेटे की शादी, गांव वालों ने रख दी ये अजीब शर्त

- Advertisement -

नई दिल्ली। अक्सर आपने लोगों को गरीबी के कारण अपनी इच्छाओं को मारते हुए देखा होगा। हर किसी का सपना होता है कि उनकी शादी काफी धूमधाम से हो लेकिन कभी कभी गरीबी इसके आड़े आती है। ताजा मामले में एक मां ने अपने बेटे की शादी गरीबी के कारण मंदिर (Temple) में करवाई। लेकिन गांव के लोगों ने नारजगी जताई और गरीब परिवार के सामने अजीब शर्त (Condition) रख दी। ऐसे में गरीबी के कारण ये परिवार उनकी बात नहीं मान सकता है। गांव वालों का कहना है कि उस परिवार को पूरे गांव के लिए एक दावत का आयोजन करना होगा नहीं तो समाज उनका बहिष्कार कर देगा।


यह भी पढ़ें- गर्लफ्रेंड को ‘बेवफा’ बताकर पीट रहा था युवक, Amazon अलेक्सा ने बुलाई पुलिस

मामला पुलिस (Police) तक पहुंच गया है। मामला महासमुंद जिले के तुमगांव है। यहां धोबी समुदाय से आने वाले एक परिवार ने गरीबी की वजह से अपने बेटे की शादी आर्य समाज मंदिर में कर दी। लेकिन यह बात धोबी समाज के लोगों को पसंद नहीं आई। गरीबी के कारण पीड़ित परिवार ने भोज का आयोजन नहीं किया था। अब पीड़ित परिवार पर गांव वालों के लिए भोज का आयोजन करने का जुर्माना लगाया गया है। अगर शादी करने वाला परिवार भोज का आयोजन नहीं करता है तो उसे धोबी समाज से बाहर कर दिये जाने की धमकी दी गई है।

पीड़ित परिवार इस घटना के बाद दुखी होकर होकर देर शाम तक थाने पहुंच गया। गुरुवार रात को इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। एसपी महासमुंद संतोष सिंह ने बताया कि तुमगांव के रमेश कुमार ने शिकायत दर्ज कराया है कि उनके समुदाय के कुछ लोगों ने उनके साथ बुरा व्यवहार किया है, क्योंकि वे शादी से खुश नहीं थे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है